मुजफ्फरपुर। पिछले एक सप्ताह से बैंकों से राशि निकासी को लेकर हो रही परेशानियों के बीच मंगलवार को कांति सिन्हा ने संदेश दिया कि राष्ट्रहित में इतनी मुश्किल झेली जा सकती है। करीब 85 वर्ष की कांति को उम्र के कारण चलने व खड़ी होने में थोड़ी परेशानी है। मगर, आज आम उपभोक्ता की तरह उन्होंने एसबीआइ की क्लब रोड शाखा में आकर राशि की निकासी की। कहा, उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं। पीएम ने अगर राष्ट्रहित में अगर फैसला लिया है तो थोड़ी-बहुत परेशानी झेली जा सकती है। उनका यह संदेश उन लोगों के लिए है जो थोड़ी सी परेशानी को लेकर बैंकों में हंगामा खड़ा कर रहे।

प्रधानमंत्री मोदी के पांच सौ व एक हजार के नोट को बंद करने के फैसले का महजबीन परवीन समर्थन करती हैं। इन नोटों के बदले 4500 रुपये लेकर निकलीं परवीन ने कहा, इससे काला धन बाहर आएगा। बैंक में लगने वाले समय को लेकर कहा, 20 से 25 मिनट में उनका काम हो गया। महिलाओं के लिए अच्छी व्यवस्था बैंक ने की थी।

छात्र आशीष राज पीएम के फैसला का पूरी तरह समर्थन करते हैं। एसकेएमसीएच इलाके से मिठनपुरा में राशि एक्सचेंज करने आए आशीष ने कहा, देश के लिए एक घंटा लाइन में लगा। अशोक कुमार गुप्ता भी करीब एक घंटा लाइन में लगकर राशि की निकासी की। कहा, थोड़ी परेशानी भी है तो सह लेंगे। मगर, देशहित के इस निर्णय को लागू करने में पीएम की मदद करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस