सीतामढ़ी, जेएनएन। सूरज निकलने के साथ ही सीतामढ़ी लोकसभा सीट के लिए सोमवार को मतदान शुरू हुआ। जिले के 1776 बूथों पर एक साथ मतदान हो रहा है। परिहार प्रखंड के बूथ नंबर 229 और 175 पर एक जाति विशेष के लोगों ने दूसरे लोगो को वोट डालने से रोक रखा है। एक जाति विशेष के पक्ष में मतदान का दबाव बनाने को लेकर यहां आक्रोश हैं। करीब तीन घंटे से ग्रामीण शिकायत कर रहें है, बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है।

इससे पूर्व सुबह छह बजे से ही लोग बूथों पर कतार में लग गए, वहीं अपनी बारी का इंतजार करने लगे। प्रशासनिक व्यवस्था के बीच लोगों ने बूथों पर मतदान किया। अहले सुबह युवा, वृद्ध और दिव्यांग वोटरों ने मतदान कर लोकतंत्र का महापर्व बनाया।

   मतदान को लेकर लोगों में खासा उत्साह दिखा, वहीं लोकतंत्र भी अंगड़ाई लेती नजर  आई। जिले के सभी बूथों पर सुरक्षा के पुख्ता बंदोवस्त रहे। सशस्त्र बल और दंडाधिकारी तैनात रहे। मतदान की प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होती रही  सीतामढ़ी शहर के पुराने अंचल कार्यालय में स्थित तीन बूथों में से एक पंडाल में बना है। सीतामढ़ी लोकसभा क्षेत्र में दो बजे तक 42.5 फीसद मतदान हुआ। 

ईवीएम में खराबी से वोटर परेशान 

सीतामढ़ी लोक सभा क्षेत्र के कई बूथों पर ईवीएम में खराबी से वोटर परेशान रहे। बथनाहा विधान सभा क्षेत्र के सहियारा प्रखंड के बूथ संख्या 70, सीतामढ़ी के 49 परिहार विधान सभा क्षेत्र के, सोनबरसा के बूथ संख्या 70, पर सोनबरसा के बूथ 70, 108 व  संख्या 69 तथा परिहार के बूथ संख्या 152 पर ईवीएम खराब रहने से वोटर परेशान हुए। सोनबरसा के बूथ  संख्या 108, 69 व  बूथ संख्या 16 पर ईवीएम खराब रहने से वोटर परेशान रहे।तेज धूप के बावजूद मतदाताओं में उत्साह
सीतामढ़ी लोकसभा क्षेत्र में तेज धूप के बावजूद वोटरों में उत्साह दिख रहा है। इस बीच बथनाहा प्रखंड के पीतांबरपुर में विकास के मुद्दे पर  नाराज वोटर अब सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं। उधर, सोनबरसा प्रखंड के बनरझूला स्थित बूथ संख्या 71 पर प्रदेश राजद अध्यक्ष डॉ. राम चंद्र पूर्वे ने पत्नी रंजना पूर्वे के साथ मतदान किया। सीतामढ़ी शहर के बूथ संख्या 86 पर पर्ची पर नाम गलत रहने के कारण राजेश मल्लिक और उनकी पत्नी वीणा देवी को मतदान करने से वंचित कर दिया गया।  
  मतदान को लेकर जिला प्रशासन का सूचना तंत्र कमजोर दिख रहा है। बूथों से मतदान संबंधित आंकड़ा ससमय नहीं पहुंच रहा है। डीएम रामचंद्रडू और एसपी अनिल कुमार  ने कई बूथों का जायजा लिया।  इसी बीच रुन्नीसैदपुर विधानसभा क्षेत्र के बूथ संख्या 40 पर और सीतामढ़ी शहर के बूथ संख्या 104 भवदेवपुर में इवीएम में आई तकनीकी खराबी के चलते मतदान रुका हुआ है। प्रशासन की ओर से दोनों बूथों पर इंजीनियर को भेजा गया है। शहर के ओरिएंटल स्कूल स्थित बूथ संख्या 104 खाली पड़ा है। यहां वोटर उदासीन दिख रहे हैं। परिहार, सरसंड और नानपुर में वोटरों खास कर महिलाओं में जबरदस्त उत्साह दिख रहा है।
लोगों को अपना मत डालने की थी जल्दबाजी, वोटिंग से पीछे नहीं रहे बुजुर्ग
सीतामढ़ी में वोटिंग के लिए हर तबके के लोग उत्साहित थे। सभी को अपना मत डालने की बेचैनी थी। समय के साथ-साथ धूप अपना असर भी दिखाना शुरू कर दिया था बावजूद इसके धूप अपना प्रभाव वोटरों के उत्साह को कमजोर नहीं कर पा रहा था। बूथों पर वोटरों की भीड़ लगातार बढ़ते जा रही थी। चोरौत बूथ नंबर 134 पर मतदान के लिए लोग लाइन में लगे थे। सीतामढ़ी के बूथ नंबर 160 पर मतदाता कतारबद्ध थे। सुरसंड के मदरसा निजामिया बूथ संख्या 68 पर नेत्रहीन मोहम्मद इलियास अंसारी अपने पोता के साथ मतदान करने पहुंचे।

   सीतामढ़ी के बूथ नंबर 168 पर महिलाएं लाइन में लगी थी। मॉडल बूथ को आकर्षक तरीके से सजाया गया था। चोरौत में 152 नंबर बूथ पर ईवीएम खराब होने से मतदान में विलंब हुआ। बाजपट्टी मतदान केंद्र संख्या 50 पर मतदान करने 107 वर्षीय बुजुर्ग महिला सती देवी पहुंची। सुरसंड के मदरसा निजामिया बुथ संख्या 67 पर बुर्का में मतदान करने मतदाता पहुंची। सुरसंड में विशेश्वर रामीश्वर बालिका उच्च विधालय बूथ संख्या 72 पर विकलांग हरिशंकर मंडल को मतदान के लिए उनके परिजन ले गए। बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा प्रशासनिक अधिकारी लेते रहे।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप