मुजफ्फरपुर, जेएनएन। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में अब विद्यार्थियों को रिजल्ट सुधार, प्रमाणपत्र समेत अन्य समस्याओं के लिए बार-बार चक्कर नहीं लगाना होगा। विद्यार्थियों की समस्याएं 15 दिनों के भीतर सुलझा दी जाएंगी। इसके लिए विवि में तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी विद्यार्थयों की ओर से शिकायत मिलने के बाद उसके समाधान कराएगी। साथ ही समस्या सुलझ जाने के बाद विवि की ओर से फोन या एसएमएस के माध्यम से सूचना भी दी जाएगी।

 विद्यार्थी ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। शिकायत दर्ज कराने के बाद उन्हें इसकी रसीद भी दी जाएगी। नए कुलपति डॉ.हनुमान प्रसाद पांडेय के योगदान के बाद कुछ छात्रों ने विद्यार्थियों को हो रही समस्याओं को लेकर इस कमेटी का निर्माण करने और विद्याíथयों की समस्याओं के निष्पादन को पहली प्राथिमकता देने की मांग की थी। इसके बाद कुलपति ने तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया था। इस कमेटी में विवि के विज्ञान संकाय के अध्यक्ष, अध्यक्ष छात्र कल्याण और कुलानुशासक को रखा गया है।

अबतक की समस्याओं की सौंपी गई रिपोर्ट

कुलपति ने योगदान के साथ तीन सदस्यीय कमेटी का गठन कर विद्याíथयों की अबतक की समस्याओं का विस्तृत विवरण उपलब्ध कराने को कहा था। इसके बाद कमेटी ने पें¨डग रिजल्ट, डुप्लीकेट रॉल नंबर, लंबित परीक्षाएं समेत अन्य कई ¨बदुओं पर रिपोर्ट सौंपी। इसपर विचार के बाद कुलपति ने निर्णय लिया कि अब विद्यार्थियों की समस्याओं को पहली प्राथमिकता देते हुए सबसे पहले उसका समाधान कराया जाएगा।

 विवि के प्रवक्ता डॉ.सतीश कुमार राय ने बताया कि लॉकडाउन समाप्त होने के बाद विद्याíथयों की समस्याओं के समाधान की दिशा में पहल शुरू की जाएगी। अब विद्याíथयों को एक ही समस्या के लिए बार-बार विवि नहीं आना है। समस्या का समाधान हो जाने पर विवि की ओर से इसकी सूचना

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस