मुजफ्फरपुर, जेएनएन। : बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में अर्से बाद एकेडमिक काउंसिल की बैठक मंगलवार को हुई। इसमें सबसे अहम दूरस्थ शिक्षा निदेशालय (डिस्टेंस एजुकेशन) से पांच वर्षों से एमफिल की परीक्षा का इंतजार कर रहे छात्रों के लिए राहत वाली खबर आई। डिस्टेंस के डायरेक्टर डॉ. सतीश कुमार राय ने कहा कि परीक्षा में जो भी बाधाएं थीं वे अब लगभग दूर हो गई हैं। एमफिल के लिए ट्रांजिट रेग्युलेशन को एकेडमिक काउंसिल से अनुमोदित कर दिया है। दिसंबर तक परीक्षा हो जाएगी। एमफिल में 1610 विद्यार्थियों को परीक्षा का इंतजार है। विश्वविद्यालय के सीनेट हॉल में कुलपति डॉ. आरके मंडल की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई अन्य मुद्दों पर भी अहम निर्णय हुए। 

प्रोविजनल सर्टिफिकेट पर अब रजिस्ट्रेशन व रौल नंबर भी

 

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को जारी होने वाले प्रोविजनल सर्टिफिकेट की प्रमाणिकता के लिए नई व्यवस्था लागू होगी। कुलपति डॉ.आरके मंडल के मुताबिक प्रोविजनल सर्टिफिकेट के सबसे उपरी भाग में रजिस्ट्रेशन नंबर व रौल नंबर भी अंकित रहेगा। हालांकि, पहले सर्टिफिकेट के पीछे ये बातें लिखी रहती थीं। इस बीच एकेडमिक काउंसिल की बैठक में एक सदस्य ने यह भी सुझाव दिया कि जब इतना कुछ होना ही है, तो क्यों नहीं उसपर कंडिडेट की फोटो व आधार नंबर भी अंकित हो। कुलपति ने उसपर भी विचार करने की बात कही।

एमएड में दाखिले के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा 10 को

बीआरएबीयू के दो कॉलेजों में एमएड में दाखिले के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा 10 नवंबर को होगी। ऑनलाइन फॉर्म भरा जा रहा है। अंतिम तिथि 5 नवंबर है। 7 नवंबर को एडमिट कार्ड इश्यू किए जाएंगे। 12 नवंबर को रिजल्ट प्रस्तावित है। विश्वविद्यालय ने इसकी सूचना वेबसाइट पर अपलोड कर रखी है। ललित नारायण मिश्रा कॉलेज ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट, मुजफ्फरपुर व विशुन राजदेव राय टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज, भगवानपुर, वैशाली में एमएड में कुल 66 सीटों के लिए ये प्रवेश परीक्षा हो रही है।   

कैंपस- लॉ की परीक्षा 6 नवंबर से, कार्यक्रम घोषित

पंचवर्षीय प्री-लॉ पार्ट वन, टू, थ्री, फोर व फाइव की परीक्षा-2019 तथा एलएलबी पार्ट वन, टू व थ्री-2019 की परीक्षा 6 नवंबर से होगी। परीक्षा नियंत्रक डॉ. मनोज कुमार ने यह जानकारी दी। बताया कि दो पालियों में यह परीक्षा होगी जो 25 नवंबर तक चलेगी। 

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप