मुजफ्फरपुर, जेएनएन। जिले में डेढ़ सौ से अधिक ऐसे गांव हैं जहां तीन किमी के दायरे में कोई स्कूल नहीं है। यह आंकड़ा केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जीआइएस (ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम) के आधार पर तैयार किया है। विभाग ने डीएम आलोक रंजन घोष को पत्र भेजकर इस ओर ध्यान दिलाया है। साथ ही जिले के गांवों में शिक्षा, स्वास्थ्य, पोस्ट ऑफिस आदि की व्यवस्था को विकसित करने की योजना बनाने का आग्रह किया है। मालूम हो कि नक्सल प्रभावित जिला होने के कारण केंद्रीय गृह मंत्रालय मुजफ्फरपुर में आधारभूत संरचनाओं को विकसित करने में सहयोग कर रहा है।

  जीआइएस मैपिंग से यह अध्ययन किया जा रहा है कि कहां क्या कमी है। एलडल्यूई के निदेशक राजीव कुमार ने डीएम को भेजे पत्र में कहा कि जीआइएस के माध्यम से कई विभागों में कमी मिली है। उदाहरण के लिए जिले के 158 गांव ऐसे हैं जहां तीन किमी के दायरे में एक भी स्कूल नहीं है। जबकि शिक्षा के अधिकार के अनुसार किसी गांव के एक किमी के दायरे में प्राथमिकी व तीन किमी के दायरे में मध्य विद्यालय होना चाहिए। निदेशक ने इसी आधार पर अन्य सुविधाओं का अध्ययन करने का आग्रह किया है। यह जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई है। कमी के आधार पर विस्तृत योजना तैयार करने को कहा गया है।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप