मुजफ्फरपुर। मोतिहारी के हरसिद्धि प्रखंड क्षेत्र के अरेराज-छपवा पथ पर सोमवार को आशा संघ के लोगों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले को कनछेदवा में रोक दिया। काफी देर हंगामा होता रहा। इसके बाद पहुंची फोर्स ने लाठीचार्ज कर सीएम के काफिले को सुरक्षित आगे बढ़ाया।

सीएम सम्राट अशोक क्लब के तत्वावधान में सिसवा कोरड़ में आयोजित महात्मा बुद्ध की प्रतिमा का अनावरण व कनछेदवा उच्च माध्यमिक विद्यालय में आयोजित समारोह को संबोधित करने हरसिद्धि पहुंचे थे। सिसवा कोरड़ से मंत्री अवधेश कुशवाहा के यहां जाने के क्रम में समारोह स्थल के सामने आशा संघ के सदस्यों ने इस बात के लिए उनके काफिले को रोका कि क्या उन्हें सभा में शामिल होने का भी अधिकार नहीं है।

आशा को उग्र होता देख जिलाधिकारी अनुपम कुमार पहुंचे उन्होंने समझाने की कोशिश की। लेकिन वे नहीं मानी। फिर जैसे ही महिलाओं ने काफिले को रोका पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इसके बाद भगदड़ मच गई। घटना में कई आशाओं को हल्की चोट आई है। कुछ देर के हंगामे के बाद मुख्यमंत्री के काफिले को रवाना किया जा सका।

बिहार बढ़ेगा बिहारियों के बूते : नीतीश

पूर्वी चंपारणष। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार बढेगा बिहारियों के बल पर। हमारा इतिहास गौरवशाली है। यहीं से पूरी दुनियां को शासन प्रणाली मिली है। हम राजनीति में रहकर भी उनकी तरह नहीं है। मुख्यमंत्री मोतिहारी जिले के हरसिद्धि प्रखंड के कनछेदवा उच्च माध्यमिक विद्यालय में सम्राट अशोक क्लब के तत्वावधान में आयोजित प्रथम सम्राट बुद्ध विहार लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

सीएम ने सधे अंदाज में राजनीतिक विरोधियों को निशाने पर लिया। उनके काफिले को रोकने वाली आशाओं को कहा- जब दिल्लीवाले आएं तो उनके सामने अपनी बात रखिए। हमारे हाथ में जितना है उतना कर दिया है। आशा का फुल फर्म बताते हुए कहा आपको जो मिलता है वह प्रोत्साहन राशि है।

आपके मामले में केंद्र ही कुछ कर सकता है। आप आवेदन दें हम केंद्र को भेज देंगे। अब जब दिल्ली के लोग आएं तो उनके सामने अपनी बात रखिएगा। वैसे भी हमने दस साल में जो करना था कर दिया। चार दिन में माडल कोड लग जाएगा। फिर मौका मिलेगा तो करेंगे।

Posted By: Pradeep Kumar Tiwari