मुजफ्फरपुर। ब्रह्मापुरा के ज्ञानलोक मोहल्ले में सेवानिवृत्त एआइजीआर अजय कुमार शर्मा और उनकी पत्‍‌नी रेणु देवी हत्याकांड के आरोपित नीतेश को पूछताछ के लिए 48 घंटे की रिमांड पर लेने की अनुमति सीजेएम कोर्ट ने दे दी है। मामले के जांचकर्ता ने पांच दिनों की रिमांड पर देने की प्रार्थना सीजेएम कोर्ट से की थी। नीतेश पानापुर के पखनाहां का रहने वाला है। वह सेवानिवृत एआइजीआर का पुराना नौकर था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। रविवार को सीजेएम कोर्ट ने उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया था। उसके पास से उनका मोबाइल बरामद हुआ था। पुलिस के समक्ष स्वीकारोक्ति बयान में उसने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की थी। इस घटना के संबंध में कई जानकारी व अन्य की संलिप्तता को लेकर पुलिस उससे पूछताछ करना चाह रही है। उसने खुन्नस व रुपये की लालच में हत्या करने की बात स्वीकार की थी।

दो धाराएं जोड़ने की अनुमति : मामले के जांच कर्ता की अर्जी पर सीजेएम कोर्ट ने भादवि की धारा - 411 (चोरी की संपत्ति को बेईमानी से प्राप्त करना) व धारा-414 (चुराई हुई संपत्ति छुपाने या निपटारा में सहायता करना) जोड़ने की अनुमति दे दी है। इस मामले की जांच अन्य धाराओं के साथ-साथ इन धाराओं में भी की जाएगी।

यह हुई थी घटना : सात जनवरी की रात ब्रह्मापुरा के ज्ञानलोक मोहल्ला में सेवानिवृत एआइजीआर अजय कुमार शर्मा व उनकी पत्‍‌नी रेणु देवी की कूच-कूच कर हत्या कर दी गई थी। इस घटना में पुलिस ने पहले तीन अन्य संदिग्ध आरोपितों को गिरफ्तारी की गई थी। पुलिस ने नीतेश को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस