पश्चिम चंपारण, जासं। अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में एनसीसी के 25 वीं बटालियन के 40 स्वयंसेवक साइकिल यात्रा के क्रम में नरकटियागंज पहुंचे, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया। पटना से भितिहरवा गांधी आश्रम के लिए निकले स्वयंसेवकों के सम्मान में रोटरी और रोट्रैक्ट क्लब की स्थानीय इकाई लगी रही। वे साइकिल यात्रा में जैसे ही नगर के वर्मा चौक पर पहुंचे, उन्हें एक-एक कर फूल माला से सम्मानित किया गया। इस क्रम में एक संक्षिप्त कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया।

क्लब के अध्यक्ष वर्मा प्रसाद एवं सचिव प्रदीप कुमार श्रीवास्तव ने बटालियन के पूर्व निदेशक डॉ श्रवण कुमार, निदेशक राजेश कुमार, सीटीओ विनय कुमार, ओमप्रकाश जिसियोस को फूलों की माला पहना कर स्वागत किया। कहा कि बटालियन के पदाधिकारियों एवं स्वयंसेवकों को गांधी और चाणक्य के धरती पर स्वागत करने अवसर मिला है। अमृत महोत्सव पर उनके अदम्य साहस और देश के प्रति निष्ठा का सम्मान कर हम सभी गौरवान्वित हो रहे हैं। फिर क्लब के अध्यक्ष वर्मा प्रसाद ने हरी झंडी दिखाकर दल को भितिहरवा गांधी आश्रम के लिए रवाना किया।

समर्पण और संघर्ष से भरी है चंपारण की मिट्टी

बटालियन के पूर्व निदेशक डॉ श्रवण कुमार ने कहा कि रोटरी क्लब एवं रोट्रेक्ट क्लब के सदस्यों द्वारा दिए गए सम्मान से अभिभूत हूं। आज महसूस भी हुआ कि चंपारण अपने इन्हीं खूबियों के बदौलत मोहनदास करमचंद गांधी को महात्मा गांधी बनाया। यहां की मिट्टी समर्पण, संघर्ष और त्याग से भरी पड़ी है। उन्होंने बताया कि पटना से बेतिया रवा आश्रम पहुंचने के क्रम में जिन जिन स्थलों पर महात्मा गांधी पहुंचे थे उन स्थलों को नमन करते हुए यात्रा पूरी की जा रही है। बटालियन के हर्ष कुमार, रतन कुमार, अभय कुमार, सोनी कुमारी, गुड़िया कुमारी आदि स्वयंसेवक शामिल रहे। कार्यक्रम को सफल बनाने में कृष्ण कुमार पाठक, आशीष कुमार, डॉ बीके चौहान, शौखलाल जायसवाल, अतुल कुमार, रोट्रेक्ट क्लब के चंदन कुमार, अध्यक्ष शशिकांत पाठक, सुदिष्ट कुमार, प्रिंस कुमार, अनुराग कुमार, सुधीर कुमार, छोटू तिवारी समेत सभी सदस्यय सक्रिय रहे।