पूर्वी चंपारण, जेएनएन। पुलिस ने बखरी पंचायत के चंपापुर गांव में शनिवार को छापेमारी कर हत्या और नक्सली घटनाओं में शामिल मास्टरमाइंड व प्रतिबंधित नक्सली संगठन के एरिया कमांडर बिगन दास उर्फ बिगना को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के बाद उसे न्यायिक हिरासत में मोतिहारी भेज दिया है। छापेमारी का नेतृत्व कर रहे डीएसपी दिनेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली बिगन दास उर्फ बिगना पताही पुलिस पर हमले का भी आरोपित है। साथ ही हत्या एवं नक्सली घटनाओं के 12 मामले दर्ज है।

 फेनहारा, मधुबन धमाका पकड़ीदयाल, चकिया, शिवहर मुजफ्फरपुर में हुए नक्सली घटनाओं में भी वह शामिल था। उसके तार नेपाली नक्सलियों से भी जुड़े हैं, जिसे खंगालने में पुलिस जुटी है। फिलहाल, पताही में हत्या के दो मामलों में न्यायालय से वारंट निर्गत था। थानाध्यक्ष विकास तिवारी ने बताया कि जिहुली पंचायत के पूर्व मुखिया, चंपापुर निवासी संभ्रांत किसान जेपी आंदोलन के जोधा शिवचंद्र प्रसाद सिंह की नक्सलियों ने 26 जनवरी 2011 को संध्या 7 बजे गोलियों से भून दिया था।

 मामले में पुलिस ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन के दर्जनभर लोगों पर पताही थाने में कांड संख्या दर्ज किया था। वहीं बखरी पंचायत की पूर्व मुखिया रंजू देवी के ससुर महेश ठाकुर की 25 जुलाई 2013 को भी नक्सलियों ने गोलियों से भून डाला था। जांच के दौरान मामले बिगन का नाम सामने आया था। वर्ष 2017 में उसे गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भी भेजा था। वहीं मधुबन धमाका 2005, चकिया रेलवे ट्रैक विस्फोट मामले में भी उसकी संलिप्तता सामने आई थी। अभियान में थानाध्यक्ष विकास तिवारी, अपर थानाध्यक्ष गंगादयाल ओझा, जमादार जलेन्द्र सिंह, बिरसा उरांव, सैप और बीएमपी के जवान शामिल थे। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस