मुजफ्फरपुर /समस्तीपुर, जासं। जिला समेत पूरा उत्तर बिहार धीरे-धीरे ठंड की चपेट में चलता जा रहा है। इस हालत में यदि आप घर से बाहर जा रहे हैं और देर शाम को लौटना आपकी मजबूरी है तो मौसम विभाग का पूर्वानुमान जानना आपके लिए जरूरी है। उस दौरान न्यूनतम तापमान 13 से 15 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। ऐसे में जरूरत के अनुसार गर्म कपड़े साथ रखना नहीं भूलें।

इन जिलों में अगले कुछ दिनों तक आसमान पूरी तरह साफ और मौसम शुष्क रहेगा। यह कहना है मौसम विभाग का। अगले 28 नवंबर तक के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान में डा. राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा के मौसम विभाग ने यह बात कही है। मौसम पूर्वानुमान में कहा है कि पूर्वानुमान की अवधि में उत्तर बिहार के जिलों में आसमान प्रायः साफ तथा मौसम के शुष्क रहने का अनुमान है। इस अवधि में अधिकतम तापमान 26 से 28 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। जबकि न्यूनतम तापमान 13 से 15 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। सापेक्ष आर्द्रता सुबह में 75 से 85 प्रतिशत तथा दोपहर में 55 से 60 प्रतिशत रहने की संभावना है। औसतन 4 से 7 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से समस्तीपुर, वैशाली, सारण तथा सिवान में पछिया हवा तथा अन्य जिलों में पुरवा हवा चलने की संभावना है। 

कोहरे के कारण विलंब से पहुंचीं दर्जनभर ट्रेनें, यात्री रहे परेशान

मुजफ्फरपुर : जंक्शन पर गुरुवार को दर्जनभर से अधिक ट्रेनें विलंब से पहुंचीं। इस कारण यात्रियों को घंटों प्लेटफार्म पर इंतजार करना पड़ा। यात्री बार-बार पूछताछ काउंटर व मोबाइल एप पर ट्रेन का स्टेटस देख रहे थे। गोंडा आसनसोल एक्सप्रेस पांच घंटे विलंब से जंक्शन पहुंची। अमृतसर जयनगर क्लोन चार घंटे, पाटलिपुत्र दरभंगा स्पेशल और अमृतसर दरभंगा स्पेशल 4.30 घंटे, नई दिल्ली-दरभंगा बिहार संपर्क क्रांति ढाई घंटे, डिब्रूगढ़ लालगढ़ स्पेशल 2.45 घंटे, नरकटियागंज मुजफ्फरपुर मेमू दो बजे, दरभंगा पाटलिपुत्र मेमू 1.30 घंटे, आनंद विहार मुजफ्फरपुर स्पेशल 1.45 घंटे और आनंद-विहार रक्सौल स्पेशल 2.30 घंटे विलंब से पहुंची। यात्रियों ने बताया कि गाडिय़ां काफी धीमी गति से चल रहीं थीं। साथ ही कई स्टेशन पर उनका अधिक देर तक ठहराव हुआ। इस कारण विलंब हुआ। वहीं विभाग के पदाधिकारियों का कहना है कि अब कोहरे का असर दिखने लगा है। इस कारण ट्रेनों की गति नियंत्रित कर दी गई है।

Edited By: Ajit Kumar