मुजफ्फरपुर, जासं। श‍िवहर समेत पूरे उत्‍तर ब‍िहार में शुक्रवार की आधी रात आई तेज आंधी-पानी से जन-जीवन अस्त-व्यस्त होकर रह गया है। वहीं शनिवार को मौसम का मिजाज बदल गया है। तापमान में गिरावट के चलते मौसम सर्द हो गया है। आसमान में बादल छाए हुए हैं। हवा बह रही है। दस बजे तक सूरज भी नहीं निकल सका है। बादल और हवाओं की वजह से सर्दी जैसा मौसम दिख रहा है। इसी बीच मौसम विभाग ने शनिवार को भी तेज आंधी -पानी का अलर्ट जारी किया है।

इधर, शुक्रवार की आधी रात तेज हवाओं के साथ आई आंधी से लोग दहल गए। तकरीबन 50 किमी प्रति घंटे की तेज रफ्तार के साथ आई आंधी की वजह से कुछ झोपड़ियों को नुकसान पहुंचा है। वहीं खेतों में लगी गेहूं व सरसों आदि की फसल को नुकसान पहुंचा है। वहीं पेड़ों की डालियां टूट गई। आम और लीची के मंजर झड़ गए। राहत की बात यह रही कि, इलाके में कही भी ओलावृष्टि की स्थिति नहीं रही। आंधी के चलते कई सुदूर ग्रामीण इलाकों में बिजली गुल हो गई। बिजली विभाग की टीम विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था बहाल करने में लगी हुई है। शुक्रवार की रात इलाके में तकरीबन 45 मिनट तक आंधी का असर रहा। इस दौरान हल्की बारिश भी हुई। आंधी का सर्वाधिक असर पुरनहिया और पिपराही प्रखंड में दिखा। इन इलाकों में खेतों में लगी गेहूं, दलहन, तिलहन और सब्जी की फसल पर आंधी का प्रभाव दिखा है। तेज हचाओं के चलते खेतों में लगी गेहूं की फसल गिर गई है। बताते चलें कि 11 मार्च को मौसम विभाग ने 12 व 13 मार्च को शिवहर-सीतामढ़ी समेत पूरे बिहार में आंधी-पानी का अलर्ट जारी किया था।

वहीं दरभंगा जिले में सुबह से आसमान में बादल छाए हुए हैं। धूप नहीं खिलने के कारण लोगों को सर्दी का एहसास हो रहा है। बगहा में शुक्रवार की रात तेज आंधी के साथ हल्की बारिश हुई। इस कारण रात में तापमान में कमी दर्ज की गई। शनिवार को सुबह से ही आसमान में हल्के बदल छाए हुए हैं।

मुजफ्फरपुर में ज हवा के साथ कहीं कहीं हल्की बूंदा बांदी होगी। अधिकतम तापमान 31 से 34 व न्यूनतम तापमान 19 से 21 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेंगी। हवा की गति 9 से 12 किलोमीटर की रफ्तार से‌ पछिया हवा चलेगी।

Edited By: Ajit Kumar