मुजफ्फरपुर, जासं। पंचायत से लेकर जिला स्तर के पदाधिकारी भले ही नल का जल योजना में गड़बड़ी नहीं पकड़ पा रहे हों। एक सड़क के निर्माण ने योजना में गड़बड़ी की पोल खोल दी। सड़क निर्माण के लिए मिट्टी की खोदाई में पता चला कि नल का जल के लिए पाइप एक फीट अंदर ही गाड़ा गया था। नियम के अनुसार इसे तीन फीट अंदर तक गाड़ा जाना था। गड़बड़ी की सूचना पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता ने मुशहरी बीडीओ को भेजी है। 

पथ निर्माण प्रमंडल-एक के कार्यपालक अभियंता अंजनी कुमार की रिपोर्ट के अनुसार मस्जिद चौक से काजी इंडा (एनएच-28) तक सड़क का चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण किया जा रहा है। यह सड़क बेला इमली चौक, एसएनएस कॉलेज, गोपालपुर, सभापुर, रघुनाथपुर, मधुबन होकर गुजरती है। निर्माण कार्य के दौरान सभापुर से प्रहलादपुर तक मिट्टी की खोदाई में पता चला कि नल का जल योजना का पाइप एक फीट अंदर ही है। इसे तीन फीट होना चाहिए था। गड़बड़ी सामने आने के डर से वार्ड 12 के पार्षद संतोष राय ने सड़क का निर्माण कार्य बंद करा दिया। कार्यपालक अभियंता ने बीडीओ को भेजे पत्र में कहा कि नल का जल योजना के लिए वार्ड पार्षद ने एनओसी भी नहीं ली थी। इसके अलावा कम गहराई में पाइप डालने से सड़क के चौड़ीकरण में परेशानी आ रही है। कार्य कराने से पाइप कट जा रहा है। वहीं वार्ड पार्षद भी काम नहीं होने दे रहे। इसे देखते हुए नल का जल योजना के लिए पहले विभाग से अनापत्ति प्रमाणपत्र प्राप्त किया जाए। साथ ही पाइप को तीन फीट अंदर कराना सुनिश्चित किया जाए। यदि सड़क के चौड़ीकरण व मजबूतीकरण कार्य में पाइप कटता है तो यह जिम्मेदारी उनकी नहीं होगी।  

उत्तर बिहार उद्यमी संघ के अध्यक्ष बने नीलकमल

जासं, मुजफ्फरपुर : बेला औद्योगिक परिसर में उत्तर बिहार उद्यमी संघ का चुनाव हुआ। इसमें अध्यक्ष पद पर नीलकमल व कोषाध्यक्ष पद पर विजय कुमार चौधरी निर्विरोध चुने गए। वहीं, महासचिव पद पर तीन दावेदार में मुकाबला हुआ। चुनाव पदाधिकारी चितरंजन प्रसाद व राजीव कुमार जायसवाल ने बताया कि महासचिव पद पर विक्रम कुमार 72 मतों से जीते हैैं। नवनिर्वाचित पदाधिकारी का उद्यमियों ने फूल माला पहनाकर स्वागत किया। नवागत अध्यक्ष व महासचिव ने कहा कि पूरे उत्तर बिहार के उद्यमियों को संगठित करना और बियाडा की ओर से उद्यमियों को जरूरी सुविधा दिलाना प्राथमिकता है।

Edited By: Ajit Kumar