मुजफ्फरपुर, जासं। पंचायत चुनाव को प्रभावित करने वाले छह और दबंगों पर डीएम प्रणव कुमार ने सीसीए (क्राइम कंट्रोल एक्ट) की कार्रवाई की है। सभी पर सीसीए की धारा तीन के तहत कार्रवाई की गई है। इसमें मीनापुर थाना क्षेत्र के पांच और मुशहरी थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति शामिल हैं। सभी को सप्ताह में तीन दिन दूसरे थाने में हाजिरी देनी होगी। एक दिन के अंतराल पर हाजिरी तय की गई है। इसका पालन नहीं होने पर संबंधित को 24 घंटे में गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया है। मतदान एवं मतगणना के दिन सभी को सुबह सात बजे से संबद्ध किए गए थाने में रहना होगा। मतदान की इच्छा व्यक्त करने पर उसकी मदद की जाएगी।

सात लोगों पर पहले भी इस धारा में हुई थी कार्रवाई

शांतिपूर्ण पंचायत चुनाव के लिए आपराधिक छवि के लोगों पर कार्रवाई की जा रही है। इसके तहत डीएम ने सात लोगों पर पहले भी सीसीए की कार्रवाई की थी। इस तरह अब तक 13 लोगों पर यह कार्रवाई की गई है। जारी आदेश में डीएम ने कहा है कि जेल से बाहर रहते हुए ये सभी स्थानीय राजनीतिक गतिविधियों में शामिल हो गए हैं। ये मतदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं। उनके खिलाफ शिकायत करने की स्थानीय लोग हिम्मत नहीं कर पाते। पंचायत चुनाव में विधि व्यवस्था एवं शांति भंग होने के खतरे को देखते हुए इनपर सीसीए की धारा तीन के तहत कार्रवाई की जाती है।

इनके खिलाफ सीसीए की कार्रवाई

मीनापुर थाना क्षेत्र

- विजय राय एवं राजू राय को बरूराज थाना में हाजिरी देनी है।

- नवल राय को कुढऩी थाना, राधे-राधे उर्फ राधेश्याम को तुर्की ओपी एवं पप्पू राय को बेनीबाद ओपी में हाजिरी देनी है।

मुशहरी थाना क्षेत्र

- बिट्टू कुमार को बरूराज थाना में हाजिरी देनी है।  

इलाज के क्रम बंदी की मौत में परिवाद, पुलिस पिटाई का आरोप

जासं, मुजफ्फरपुर : स्थानीय केंद्रीय कारा में दो दिन पूर्व विचाराधीन बंदी मुजफ्फरा कमतौल के कालू गोसाई की इलाज के दौरान एसकेएमसीएच में मौत मामले में गुरुवार को स्वजन ने कोर्ट में परिवाद दायर किया। इसमें कुढऩी थाने की पुलिस द्वारा पिटाई से मौत का आरोप लगाया गया। मामले में प्रेस वार्ता कर स्वजनों की ओर से कुढऩी थाने की पुलिस को घेरा गया। स्वजनों का कहना है कि पुलिस की पिटाई से मौत हुई है। उसकी मौत नहीं हत्या की गई है। बता दें कि पांच दिन पूर्व कुढऩी थाने की पुलिस द्वारा शराब मामले में उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। जेल जाने के बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई। उसे जेल के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद एसकेएमसीएच भेजा गया। वहां इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

Edited By: Ajit Kumar