मुजफ्फरपुर। तब्लीगी जमात के मरकज निजामुद्दीन से आए या उसके आसपास रहने वाले मुजफ्फरपुर से जुड़े 108 लोगों के मोबाइल स्विच ऑफ हैं। मोबाइल पर संपर्क नहीं होने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हडकंप मचा हुआ है।

कोरोना के नोडल पदाधिकारी एसीएमओ डॉ. विनय कुमार शर्मा ने बताया कि सरकार की ओर से जो 248 लोगों की सूची आई थी उसमें से सब चिह्नित हो गए हैं। 108 लोगों के मोबाइल स्विच ऑफ आने के बाद उनके घर के पते पर जाकर खोज की जाएगी। सभी संबंधित पीएचसी प्रभारी को बीडीओ व पुलिस पदाधिकारी के सहयोग से उन लोगों का पता लगाकर दो दिन के अंदर सूचित करने को कहा गया है।

इधर, रविवार को 81 लोगों की स्क्रीनिग की गई। इनमें एसकेएमसीएच में 62 व सदर अस्पताल में 19 की स्क्रीनिग हुई। सात लोगों का नमूना संग्रह किया गया। दो लोगों को एसकेएमसीएच के विशेष वार्ड में भर्ती किया गया।

एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने बताया कि अब तक 178 नमूने जांच के लिए पटना गए थे। 152 की रिपोर्ट प्राप्त हो गई है। सभी निगेटिव हैं। जिले में बाहर से आए 9 हजार सात सौ 86 लोगों के घर तक स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जाकर उनके स्वास्थ्य जांच करने के बाद होम क्वारंटाइन पर रहने की सलाह दी है। क्वारंटाइन सेंटर पर विशेष वार्ड में आयुष चिकित्सकों को भी अब लगाया जाएगा। इसके लिए जिले के सभी प्राथमिक सेंटर पर कार्यरत 47 व राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के 46 डॉक्टरों को चिह्नित किया गया है।

--

थोक विक्रेताओं के पास आज पहुंचेगी सैनिटाइजर की खेप : अब शहर के हर इलाके में खुदरा दवा दुकानों पर भी सैनिटाइजर मिलेगा। ड्रग इंसपेक्टर विकास शिरोमणि ने बताया कि सरकारी दर पर सैनिटाइजर का वितरण किया जाएगा। इसके लिए तीन थोक विक्रेताओं का चयन किया गया है। इनमें श्री राम ड्रग डिस्ब्यूटर काली मार्केट सरैयागंज, जय माता दी सर्जिकल जूरन छपरा, जय जगदम्बा एजेंसी सरैयागंज टावर चौक शामिल हैं। यहां से जिले के खुदरा दुकानों को आपूíत होगी।

कार्यालय में ताला लटका देख सीएस हुए नाराज : सहायक औषधि नियंत्रक कार्यालय में ताला लटका कर बिना सूचना मुख्यालय से गायब हैं। इसकी जानकारी मिलने के बाद सीएस डॉ.एसपी सिंह ने गंभीरता से लेते हुए उनसे जवाब मांगा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस