मुजफ्फरपुर, जेएनएन। सीएए के खिलाफ भीम आर्मी की ओर से रविवार को आहूत भारत बंद का उत्तर बिहार में मिलाजुला असर रहा। इस दौरान सड़क जाम, प्रदर्शन व सरकार विरोधी नारे लगाए गए। मुजफ्फरपुर के कुढऩी में सवारी ट्रेन रोकी गई। वहीं, उदयपुर -जलपाईगुड़ी एक्सप्रेस पर पथराव किया गया। हालांकि, इसमें कोई जख्मी नहीं हुआ। अघोरिया बाजार में स्थानीय लोगों ने बंद समर्थकों को खदेड़ दिया। वहीं, आमगोला में दुकानदारों से झड़प हो गई। इसमें एक बंद समर्थक जख्मी हो गया। दरभंगा में संपर्क क्रांति एक्सप्रेस कुछ देर तक रोकी गई। केवटी में एनएच -527 बी और सिंहवाड़ा में एनएच -57 को जाम कर दिया। 

चंपारण में रहा आवागमन ठप

 पश्चिम चंपारण के बगहा, मधुबनी और रामनगर में दुकानें बंद कराईं। बेतिया में शांतिपूर्ण जुलूस निकाला। पूर्वी चंपारण के मोतिहारी, मेहसी में एनएच को जाम कर दिया। मोतिहारी शहर के चांदमारी चौक और अरेराज में बेतिया-मोतिहारी मार्ग पर आगजनी व अवरोधक लगाकर आवागमन ठप रखा गया। मधुबनी शहर के थाना चौक व स्टेशन चौक कुछ घंटों के लिए जाम रहा। बेनीपट्टी के गैवीपुर गांव में भी कुछ देर तक सड़क बंद रही। एनएच पर कम वाहन चले।

टायर जाकर रोकी गाडि़यों की रफ्तार

 समस्तीपुर जिले के एनएच और एसएच को जाम कर दिया गया। समाहरणालय के पास पुल को जाम कर दिया। ताजपुर रोड में टायर जलाकर गाडिय़ों की आवाजाही रोक दी गई। सीतामढ़ी शहर में दोपहर तक आंशिक असर रहा। मेहसौल चौक, कारगिल चौक, डुमरा में प्रदर्शन किया गया। सुरसंड के कुम्मा में हाईवे को जाम कर दिया। शिवहर में जीरो माइल चौक पर धरना दिया। पिपराही व कमरौली चौक पर आगजनी, सरकार विरोधी नारे लगाए। बड़े वाहनों का परिचालन दो घंटे तक बाधित रखा। 

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस