मुजफ्फरपुर : बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से स्नातक में नामांकन के लिए पहली मेधा सूची मंगलवार को जारी हो सकती है। इसको लेकर विवि की ओर से तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। हालांकि, सीट बढ़ाने को लेकर विवि की ओर से सरकार को भेजे गए प्रस्ताव पर अबतक मंजूरी नहीं मिली है। इसको देखते हुए पूर्व के सीटों के अनुसार की मेधा सूची जारी की जाएगी। यूएमआइएस को-ऑर्डिनेटर प्रो.ललन झा ने बताया कि कॉलेजों में स्नातक पार्ट थ्री का परीक्षा फॉर्म भराने से अधिक भीड़ हो रही है। इसको लेकर कॉलेजों की ओर से एक-दो दिन समय बढ़ाने का अनुरोध किया गया है। विवि की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। हालांकि बढ़ी सीट के प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिली है। इसके बाद भी पहली मेधा सूची पूर्व निर्धारित सीट के आधार पर ही जारी की जाएगी। अगर इसके बाद सीट बढ़ने की मंजूरी मिल जाती है तो दूसरी मेधा सूची में इन्हें शामिल कर लिया जाएगा। बता दें कि स्नातक में नामांकन के लिए विवि में पूर्व से 1.07 लाख सीटे निर्धारित हैं। इसके लिए अबतक करीब 1.50 लाख छात्र-छात्राओं ने नामांकन के लिए आवेदन दिए हैं। यदि सीट बढ़ाने की अनुमति मिल जाती है तो कुल संख्या करीब 1.52 लाख हो जाएगी। इसके बाद कोई भी आवेदक नामांकन से वंचित नहीं हो सकेंगे। सबसे अधिक छात्र-छात्राओं ने इतिहास, कॉमर्स, भौतिकी, गणित व मनोविज्ञान विषय में आवेदन किया है।

आइआइटीयन यशस्वी से बच्चे आज सीखेंगे गणित के गुर

मुजफ्फरपुर के यशस्वी से 10वीं के बच्चे गणित के गुर सीखेंगे। डुमरी रोड स्थित शेमफोर्ड स्कूल में सोमवार को कार्यशाला होगी। इसमें शेमफोर्ड स्कूल के अलावा दूसरे किसी निजी या सरकारी स्कूल के बच्चे भी भाग ले सकते हैं। शेमफोर्ड की निदेशक रिचा शर्मा ने बताया कि यशस्वी खड़गपुर से आइआइटीयन हैं। वह गणित के सवालों को आसानी से हल करने के साथ जेईई में सफलता पाने के गुर सिखाएंगे। यशस्वी एक्सएलआरआइ जमशेदपुर से एमबीए भी हैं। वह मुजफ्फरपुर में पढ़ते हुए आइआइटी जेईई में शीर्ष रैंक हासिल करने वाले पहले छात्र हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस