पूर्वी चंपारण, जेएनएन। रक्सौल इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट के सभागार में रविवार की संध्या उच्चाधिकारियों की बैठक हुई। जिसमें मुख्यरूप से कोरोना वायरस को लेकर नेपाल में लॉक डाउन में फंसे भारतीय लोगों को नेपाल से लाने पर विस्तारपूर्वक चर्चा हुई। जिसमें सख्त सुरक्षा व्यवस्था और स्वास्थ्य परिक्षण के लिए दिशा-निर्देश दिया गया। बैठक में एसी शशि कुमार चौधरी, एएसपी शैशव यादव, डीसीएलआर मनीष कुमार, डीएसपी संजय कुमार झा, बीडीओ कुमार प्रशांत, आईसीपी के प्रबंधक विशाल कुमार मिश्रा आव्रजन के अधिकारी और सीमा शुल्क कार्यालय के अधिकारियों ने भाग लिया।

 बैठक में रक्सौल बॉर्डर से जुड़े नेपाल के विभिन्न शहरों के क्वारंटाइन सेंटरों में रह रहे भारतीय लोगों को लाने में सावधानी बरतने के संबंध में जानकारी दी गई। आवश्यक कागजातों के आधार पर स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत उनके गृह जिले तक भेजने की व्यवस्था करना है। इसके उपरांत विधि व्यवस्था आदि सवालों पर चर्चा हुई। हालांकि इस बैठक के संबंध में अधिकारी अधिकृति रूप से फिलहाल कुछ भी नहीं बता रहे है। संभावना है कि आने वाले चौबीस घंटे में भारतीय लोगों को नेपाल से लाने की योजना है।

बता दें कि नेपाल में 293 कोरोना वायरस के पॉजिटिव लोगो को चिंहित किया गया है। जिसमें रक्सौल से सटे पर्सा और बारा जिला में करीब सौ करोना वायरस पॉजिटिव लोग है। जिसके कारण एक सप्ताह के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया है। उक्त जिलों में कर्फ्यू का चौथा दिन है। जिसे नेपाल से कोरोना संक्रमण की खतरे की संभावना को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस