मुजफ्फरपुर : लॉकडाउन के तीसरे दिन शुक्रवार को साहेबगंज मुख्य बाजार में प्रशासन की सख्ती देखने को मिली। सीओ राकेश कुमार ने लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वाली पांच दुकानों को सील कर दिया। उन्होंने कहा कि महामारी एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज कर दुकानदारों को गिरफ्तार किया जाएगा। इस दौरान दारोगा मो.रुस्तम भी मौजूद थे। सरैया : एसडीओ पश्चिमी अनिल कुमार दास, एसडीपीओ राजेश कुमार शर्मा, बीडीओ डॉ. बीएन सिंह व थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार यादव के नेतृत्व में पुलिस बलों ने सरैया बाजार में फ्लैग मार्च किया। इस दौरान बेवजह घूमने वालों व बाइक सवारों से सख्ती की गई। वहीं, कपड़ा, सिलाई, ज्वेलर्स, रेडिमेड, जेनरल स्टोर की दुकानों को सील किया गया। दो अल्ट्रासाउंड सेंटर से दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। दोनों ने आवश्यक कागजात प्रशासन को उपलब्ध नहीं कराए। इधर, बीडीओ ने सिविल सर्जन को पत्र लिखकर सरैया के वैध अल्ट्रासाउंड व नíसंग होम की जानकारी मांगी है। एसडीओ ने कहा कि हर हाल में सरकार के निदेशों का अक्षरश:पालन करना होगा ताकि कोरोना चेन टूट सके और कोरोना के संक्रमण से हम सभी सुरक्षित रह सके। बताया कि बहुत जरूरी काम हो तभी घरों से ई-पास लेकर निकलें। सतर्क रहें,सुरक्षित रहें। हम सभी का दायित्व है आपसी समन्वय बनाकर कोरोना को मात दें।

ग्रामीण क्षेत्रों में नहीं हो रहा लॉकडाउन का पालन

अगर कोरोना संक्रमण का चेन नहीं टूट रहा है तो इसका कारण देहाती क्षेत्र के छोटे-छोटे चौक- चौराहे व बाजार हैं। प्रशासन की सख्ती के बाद भी न दुकानदार दुकान खोलने से बाज आ रहे हैं और न लोग भीड़ लगाने से बच रहे हैं। इस कारण कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। शुक्रवार की भी शाम तक मड़वन प्रखंड के बड़कागाव में बाजार खुले रहे। वहीं बगैर मास्क व शारीरिक दूरी का पालन किए लोग खरीदारी करते रहे। हालाकि पकड़ी चौक पर सीओ सतीश कुमार के नेतृत्व में करजा पुलिस ने सख्ती बरती व चोरी छुपे दुकान खोलने वाले व बेवजह मटरगश्ती करने वालों को हड़काया।

Edited By: Jagran