मधुबनी, जासं। पंचायत आम चुनाव के 11वें एवं अंतिम चरण के तहत जिले के शेष बचे दो प्रखंडों बिस्फी एवं जयनगर में चुनाव प्रचार का शोर शुक्रवार की शाम थम चुका है। इन दोनों प्रखंडों में 12 दिसंबर को मतदान कराया जाएगा। शांतिपूर्ण माहौल में भयमुक्त एवं निष्पक्ष मतदान कराने के लिए प्रशासनिक तैयारियां भी पूरी कर ली गई है। रैंडमाइजेशन के माध्यम से इन दोनों प्रखंडों में मतदान कर्मियों की बूथवार प्रतिनियुक्ति कर दी गई है। इन दोनों प्रखंडों में मतदान कराने के बाद मतगणना जिला मुख्यालय स्थित आरके कॉलेज में 14 दिसंबर की सुबह आठ बजे से प्रारंभ कराई जाएगी। अंतिम चरण के तहत बिस्फी एवं जयनगर में चुनावी प्रक्रिया पूरी करने के बाद जिले में पंचायत चुनाव प्रक्रिया पूरी तरह समाप्त हो जाएगी।

गौरतलब है कि जिले में कुल दस चरणों में चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराने का राज्य निर्वाचन आयोग ने निर्णय लिया था। जिले के कुल 21 प्रखंडों में से नौ चरणों में जिले के 19 प्रखंडों में चुनाव की प्रक्रिया संपन्न हो गई है। इन 19 प्रखंडों का चुनाव परिणाम भी घोषित किया जा चुका है। अब केवल 11वें एवं अंतिम चरण के तहत जिले के शेष बचे दो प्रखंडों बिस्फी एवं जयनगर में ही चुनाव कराया जाना है। प्रथम चरण के तहत इस जिले में एक भी प्रखंड में चुनाव नहीं कराया गया था। द्वितीय चरण से इस जिले में पंचायत चुनाव प्रारंभ हुई थी।

हालांकि, पंचायत चुनाव संपन्न कराने के बाद जिला परिषद अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष, विभिन्न प्रखंडों में प्रमुख एवं उप प्रमुख, विभिन्न पंचायतों में उप मुखिया और विभिन्न ग्राम कचहरियों में उप सरपंच का निर्वाचन कराया जाएगा। हालांकि, इन पदों के चुनाव के लिए अभी राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा तिथियां निर्धारित नहीं की गई है। लेकिन, इन पदों के दावेदारों के द्वारा शह-मात का खेल शुरू कर दिया गया है। इन पदों पर कब्जा जमाने के लिए अपने-अपने पक्ष में सदस्यों की गोलबंदी शुरू कर दी गई है। जोड़-तोड़ का खेल भी शुरू हो गया है। इन पदों के दावेदार सदस्यों को अपने-अपने पक्ष में गोलबंद करने के लिए पूरी तरह सक्रिय हो गए हैं। 

Edited By: Ajit Kumar