खुटौना(मधुबनी), संस। मधुबनी के खुटौना में पंचायत चुनाव संपन्न हो चुका है। परिणाम भी जारी हो चुके हैं। अधिकांश पुराने चेहरों को स्थानीय जनता ने इस बार चुनाव में नकार दिया है। प्रखंड से जिला परिषद सदस्य की तीन सीटों पर बिल्कुल नए चेहरों ने जगह जमाई है। प्रखंड की 18 पंचायतों में से सिर्फ दो निवर्तमान मुखिया एवं दो निवर्तमान सरपंच ही दुबारा जीतकर वापसी कर सके। पुराने 16 मुखियों एवं 16 सरपंचों को अपनी सीटें गवानी पड़ी। प्रखंड की 26 पंचायत समिति सदस्य की सीटों में से सिर्फ चार पर निवर्तमान पंसस दुबारा काबिज हो सके। 22 निवर्तमान पंसस को अपनी सीटें गवानी पड़ी। 257 वार्ड सदस्यों एवं 257 निवर्तमान कचहरी पंचों में से अधिकतर चुनाव हार गए हैं।

प्रखंड के सीमावर्ती लौकहा बाजार निवासी 45 वर्षीय ऑटो चालक रोबिन साह इस बार के पंचायत चुनाव में प्रखंड की कारमेघ उत्तरी पंचायत के सरपंच चुने गए हैं। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को 1511 मतों के अंतर से पराजित किया। लौकहा हाईस्कूल से द्वितीय श्रेणी में मैट्रिक पास रोबिन आर्थिक संकट के कारण आगे की पढ़ाई नहीं कर सके। लगभग भूमिहीन इस युवक को परिवार का गुजारा चलाने के वास्ते ऑटो चालक बनाना पड़ा। पहले वे किराए का ऑटो चलाते थे। दो वर्ष पूर्व उन्होंने लोन पर स्थानीय बजाज ऑटो ऐजेंसी से एक ऑटो खरीदा जिसे वे अभी भी चला रहे हैं और लोन का किस्त भर रहे हैं। स्वभाव से मृदु एवं मित्तभाषी रोबिन समाज में बहुत लोकप्रिय रहे हैं। वे अपनी बेबाकी के लिए जाने जाते हैं। गरीबो के साथ उनकी हमदर्दी से वे लोकप्रीय हैं। दैनिक जागरण से बातचीत में नवनिर्वाचित सरपंच रोबिन ने कहा कि ऑटो भी चलेगा और ग्राम कचहरी भी चलेगी। गरीबों को इंसाफ मिले, यही उनकी प्राथमिकता है। 

Edited By: Ajit Kumar