जयनगर (मधुबनी), जासं। जयनगर थाना की पुलिस ने झंझारपुर के अररिया संग्राम स्थित एल एंड टी फाइनेंस कंपनी लूटकांड के आरोपित मो. जियाउल को गिरफ्तार किया है। उसके पास से एक लोडेड देसी कट्टा, सात कारतूस, लूटे गए 13 हजार पांच सौ रुपये, लूट के पैसे से खरीदा गया स्मार्टफोन एवं बाइक बरामद किया है।पुलिस ने एक अन्य आरोपित मो. आरिफ के घर से दो देसी पिस्टल, तीन मैग्जीन और 14 कारतूस जब्त किया। एएसपी शौर्य सुमन ने जयनगर थाना परिसर में आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि अररिया लूटकांड के सभी चार आरोपित जयनगर के रहने वाले हैं। जिसमें से दो मो. राजा और दीपक ङ्क्षसह को अररिया पुलिस ने, मो. आरिफ को मधुबनी पुलिस ने और मो. जियाउल को जयनगर थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

 एएसपी ने बताया कि गिरफ्तार मो. जियाउल ने पूछताछ में कई आपराधिक वारदातों में शामिल होने की बात स्वीकार की है। मो. आरिफ के नेतृत्व में यह गैंग अनुमंडल के विभिन्न थानों में लूटपाट की घटना को अंजाम देने में सक्रिय था। इसी गैंग ने जयनगर पद्मा एनएच-104 पर एक व्यापारी को लूटने का असफल प्रयास समेत कई अन्य घटनाओं को अंजाम दिया है। हालांकि इस बाबत व्यापारी ने कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई थी। इसके अतिरिक्त इस गैंग ने थाने में तैनात चौकीदार को धमकाया था। मो. जियाउल को अनुमंडल मुख्यालय के भेलवा चौक से गिरफ्तार किया गया।

 एएसपी ने बताया कि आरिफ और उसके गुर्गों का आपराधिक इतिहास है। बासोपट्टी में किराना व्यवसायी लूटकांड में भी यह गैंग वांछित है। गिरफ्तार आरोपितों को बासोपट्टी पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। छापेमारी अभियान में शामिल जयनगर थानाध्यक्ष संजय कुमार, एएसआई रविन्द्र कुमार, अरङ्क्षवद कुमार समेत अन्य पुलिस बल के अच्छे कार्य के लिए पुरस्कृत करने की अनुशंसा की जाएगी।

 

Edited By: Murari Kumar