मुजफ्फरपुर, ऑनलाइन डेस्क। Bihar Lockdown Guidelines: आपदा समूह की बैठक में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर को चिंताजनक माना गया। इसको कम करने के लिए आज से 15 मई तक पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है। इस दौरान कुछ जरूरी सेवाओं को छूट जरूर दी गई है, लेकिन अधिकांश सरकारी व निजी प्रतिष्ठानाें को पूरी तरह से बंद रखने का आदेश दिया गया है। सरकार के इस फैसले का समाज के सभी लोगों पर प्रभाव पड़ेगा, लेकिन सबसे बुरा प्रभाव दैनिक मजदूरों पर पड़ेगा। पिछले साल के लॉकडाउन का अनुभव भी कुछ ऐसा ही रहा था। इससे सीख हासिल करते हुए सरकार ने सभी राशन कार्डधारकों को मई माह का राशन मुफ्त में देने का फैसला किया है। वहीं दूसरी ओर सभी डीएम को सामुदायिक किचन आरंभ करने के लिए भी कहा गया है। जिससे कोई भी भूख की वजह से परेशान हो। कहीं से अफरातफरी की हालत न बने।

यह भी पढ़ें: Bihar Lockdown Guidelines, E pass: घर से बाहर निकलने की मजबूरी हो तो पहले कर लें ये उपाय

पिछले साल लॉकडाउन लागू किए जाने के बाद दैनिक मजदूर सबसे अधिक इससे प्रभावित हुए थे। काम बंद होते ही उनके लिए भूखमरी की हालत पैदा हो गई थी। इससे परेशान लोग पैदल ही अपने-अपने घराें की ओर जाने लगे थे। क्योंकि उस समय परिवहन के साधनों को भी पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया था। इसलिए इस बार के लॉकडाउन में सरकार ने इस वर्ग को कम से कम परेशानी हो, इसका ख्याल रखा है। उसका मानना है कि दैनिक मजदूरों में अधिकांश राशन कार्डधारी हैं। इसलिए उन्हें मुफ्त में राशन दिया जाएगा। जिससे आमदनी नहीं होने के बाद भी खाने-पीने में असुविधा न हो। जिनके पास राशनकार्ड नहीं है उनके लिए भी व्यवस्था करने का आदेश डीएम को दिया गया है। उन्हें जगह चिह्नित करते हुए सामुदायिक किचन चलाने को कहा गया है। जिससे लॉकडाउन के कारण फंसे लोग यहां पर भोजन कर सकें। रेलवे व हवाई सेवा को चालू रखा गया है। जो अपने घर लौटना चाहेंगे, इसकी मदद से आ सकते हैं।  

यह भी पढ़ें: Muzaffarpur Weather: आसमान में बादल छाए रहेंगे, होगी हल्की से मध्यम वर्षा

Edited By: Ajit Kumar