मुजृृृृृृृृृृृृृृृृफ्फरपुर : उत्पाद विभाग की टीम ने अहियापुर थाना क्षेत्र स्थित दादर नदी किनारे देसी शराब बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। मौके से एक आरोपित को गिरफ्तार किया गया। उसकी पहचान किशन राय के रूप में हुई है। उत्पाद अधीक्षक संजय राय ने बताया कि वहां से शत्रुघ्न सहनी और सूरज सहनी फरार हो गया। इन दोनों के खिलाफ भी अभियोग दर्ज किया जा रहा है। मौके से 22 सौ लीटर चुलाई शराब, गैस सिलेंडर, बर्तन, नशीला टेबलेट, गैस चूल्हा और गुड़ समेत अन्य सामग्री जब्त की गई।

उत्पाद अधीक्षक ने बताया कि गुप्त सूचना पर दारोगा दीपक कुमार सिन्हा और बमबम कुमार के नेतृत्व में टीम गठित कर कार्रवाई की गई। ये धंधेबाज चोरी-छिपे देसी शराब बनाने का धंधा करते थे। उत्पाद अधीक्षक ने टीम को कार्रवाई के बाद भी लगातार उक्त क्षेत्र में निगरानी करने का निर्देश दिया है। बता दें कि पूर्व में भी कई बार नदी किनारे से भारी मात्रा में देसी शराब पकड़ी जा चुकी है। बावजूद इसके लगातार उक्त इलाके में शराब बनाने का धंधा किया जा रहा है।

गायघाट में देसी शराब पीने से युवक की मौत की चर्चा

गायघाट थाना क्षेत्र के हंसना गाव में देसी शराब पीकर एक युवक की मौत की चर्चा जोरों पर है। हालांकि, मृतक के स्वजनों एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने इस मामले को महज अफवाह बताया है। मृतक की पहचान रामप्रवेश ठाकुर के 40 वर्षीय पुत्र बबलू ठाकुर के रूप में की गई है। मृतक के स्वजनों के मुताबिक बबलू को धड़कन की बीमारी थी जिसका इलाज मुजफ्फरपुर के एक निजी अस्पताल में कराया जा रहा था। शुक्रवार को अचानक तबीयत खराब होने के बाद उसे गौसनगर के ओझा के यहा ले जाया गया। वहा से लौटने के क्रम में हंसना मंदिर के समीप एक चाय नाश्ता की दुकान में चाय पीने के दौरान वह बेहोश होकर गिर पड़ा। मौके पर मौजूद लोगों की मदद से स्वजनों ने पटशर्मा गाव स्थित निजी नìसग होम में भर्ती कराया जहा इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं, बबलू ठाकुर की मौत की खबर सुनते ही उसकी चचेरी दादी की भी मौत हो गई। थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार ने बताया कि सूचना मिलने के बाद पुलिस ने इस मामले की छानबीन की जहा शराब पीने से मौत होने की बात साबित नहीं हुई।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप