मुजफ्फरपुर, जेएनएन। बिहार ट्रक ऑनर एसोसिएशन के आह्वान पर मध्यरात्रि से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू हो गई। ट्रक संचालकों ने नए परिवहन नियमों में जुर्माने की राशि में की गई अप्रत्याशित वृद्धि एवं कड़े प्रावधानों के विरोध में यह हड़ताल की है। प्रदेश अध्यक्ष भानु शेखर प्रसाद सिंह ने कहा कि नए परिवहन नियम से ट्रक संचालकों को परेशानी हो रही है।

सरकार से 14 सूत्री मांग की गई है। हड़ताल को लेेकर संघ के अध्यक्ष हरिमोहन चौधरी की अध्यक्षता में बैठक हुई। उन्होंने कहा कि सरकार के साथ वार्ता विफल होने के बाद ट्रक संचालक हड़ताल को बाध्य हैं। सरकार की हठधर्मिता से ऐसी स्थिति बनी है। मौके पर उपाध्यक्ष इंग्लिस प्रसाद यादव, महासचिव ऋषि मिश्रा, सचिव रामकरण साहू समेत कार्यकारिणी के सदस्य मौजूद थे। इधर, हड़ताल से एनएच किनारे ट्रकों की कतार लग गई। बाजार में देर रात के बाद सामान आना बंद हो गया।

पर्व पर पड़ेगा बुरा असर

दीपावली और छठ पर्व के समय ट्रक संचालकों की हड़ताल से इसका बाजार पर बुरा असर पडऩे की उम्मीद है। ट्रक संचालकों ने अन्य प्रदेश से आने वाले ट्रकों को रोकने एवं अन्य मालवाहकों का भी परिचालन नहीं होने देने की बात कही है। ऐसे में इलेक्ट्रॉनिक्स सामान से लेकर खाद्य पदार्थ तक के बाजार पर इसका असर पड़ सकता है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस