मधुबनी, [विनय पंकज] । हर ओर उत्सव और उत्साह का माहौल। चिंता देश की, सूबे की...और गांव-समाज की। बुढ़ापा बाधा नहीं...दिव्यांगता लाचारी नहीं। स्कूलों में छुट्टी है, रोटी थोड़ी देर में भी पक जाएगी। आज मौका है वोट देने का...। पांच साल के लिए अपनी तकदीर लिखने का। यही तो है लोकतंत्र का महापर्व। झंझारपुर आज इसी उत्सव में डूबा है। हर ओर चुनावी शोर है। युवाओं में खूब उत्साह है।

पहली बार वोट डालने वालों की तो मानो लॉटरी लगी हो। बुजुर्ग भी कहां पीछे रहने वाले। खूब जच्बा दिखा रहे। महिलाएं आधी आबादी का दमखम दिखाने पहंच रहीं। बूथों पर वोटरों की लाइन है। अभी तो सिलसिला शुरू ही हुआ है, कारवां बढ़ता ही जाएगा।

सभी के कदम मतदान केंद्रों की ओर बढ़ते जा रहे

कभी रिमझिम तो कभी तेज बारिश के बीच मतदाताओं का उत्साह बढ़ता ही जा रहा। क्या बुजुर्ग, क्या दिव्यांग सभी के कदम मतदान केंद्रों की ओर बढ़ते जा रहे। बूथों पर महिला वोटरों का दमखम दिख रहा। इसका प्रमाण है समय की सूई के साथ बढ़ता वोटिंग प्रतिशत। 11 बजे के आंकड़े के अनुसार झंझारपुर में 18.50 फीसद वोटिंग हो चुकी थी। हालांकि, सुपौल और अररिया 22 फीसद के साथ अव्वल हैं। पहली बार वोट डालने वाले खूब उत्साहित हैं। खूब सेल्फी ली जा रही।

ईवीएम खराब रहने से वोटरों की बढ़ी बेचैनी

लौकहा विधानसभा क्षेत्र के तहत बूथ संख्या 53 पंचायत भवन सिकटियाही (दायां भाग) पर मतदान एक घंटे से अधिक तक ईवीएम में खराबी के कारण बाधित रहा। इस बीच यहां वोटरों की लंबी कतार लगी रही। मतदाताओं में बेचैनी बढ़ती चली गई। कतार में खड़े वोटर राम अवतार यादव, देवकिशुन महतो, रामप्रीत यादव सहित अन्य ने कहा कि मतदान की प्रक्रिया बाधित रहने से मतदाताओं में क्षोभ है।

   अधिकारी ईवीएम मशीन के जल्द दुरुस्त होने की बात कह कर वोटरों को धैर्य रखने की सलाह देते रहे। इस बीच कई वोटर कतार से हटकर वगैर वोट डाले घरों की ओर लौटते भी दिखे। वहीं, इसी परिसर में बूथ बायां भाग पर वोटिंग की प्रक्रिया जारी रही।

 

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप