मुजफ्फरपुर, जेएनएन। केंद्रीय कारा मोतिहारी में बंद कुख्यात मोहन सिंह के इशारे पर कांट्रेक्ट किलर का 'खेल' खेला जा रहा है। उक्त बंदी मोतिहारी डुमरियाघाट थाना क्षेत्र के रामपुर खजुरिया का निवासी है। उसके गुर्गे जेल में बंद अपने आका के इशारे पर गत महीने सेवराहा के समीप शाहिद हुसैन को गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद भारी आक्रोश का पुलिसकर्मियों को सामना करना पड़ा था।

मामले में हरसिद्धि थाना में कांड दर्ज है। इसके पूर्व रघुनाथपुर बस स्टैंड में शाहिद पर हमला का प्रयास किया गया था। मामले में गिरफ्तार आरोपितों द्वारा मोहन सिंह का नाम बताया गया था।

सात लाख सुपारी लेकर की गई थी हत्या

गिरफ्तार आरोपितों ने स्वीकारोक्ति बयान में बताया था कि सात लाख रुपये में इस हत्या को अंजाम दिया गया है। इससे स्पष्ट होता है कि कुख्यात अपराधी मोहन सिंह जेल में रहकर सुपारी किलिंग को अंजाम दे रहा है। इसके रहने से भविष्य में इस तरह की गंभीर अपराध की पुनावृति की संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता है। अगर यह कुख्यात बंदी मोतिहारी जेल में रहता है तो पूर्व से मोतिहारी जेल में बंद अन्य कुख्यात अपराधियों के साठगांठ से और कई गंभीर वारदात को अंजाम दिया जा सकता है।

एसपी के पत्र के आलोक में हुई कार्रवाई

मामले से अवगत कराते हुए मोतिहारी एसपी के गोपनीय पत्र के आलोक में जिलाधिकारी मोतिहारी ने महानिरीक्षक कारा को पत्राचार किया है। जिसमें सभी बातों को उल्लेखित करते हुए मोहन सिंह को अगले छह महीने के लिए बक्सर जेल में स्थानांतरित करने की अनुशंसा की गई है, ताकि भय मुक्त माहौल के साथ जिले में शांति विधि व्यवस्था कायम रहे। मोतिहारी डीएम ने इससे प्रमंडलीय आयुक्त, रेंज आइजी समेत अन्य अधिकारियों को भी कराया है।कहा गया कि मोहन सिंह के विरुद्ध मोतिहारी के विभिन्न थानों में एक दर्जन मामले दर्ज है।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस