मुजफ्फरपुर, जेएनएन। जनगणना-2021 के पहले चरण का काम 15 मई से 28 जून 2020 के मध्य तक संपन्न किया जाएगा। जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने मंगलवार को जनगणना की तैयारियों को लेकर की गई समीक्षा बैठक में यह कहा। उन्होंने बताया कि पहली बार मोबाइल एप के जरिए जनगणना कराई जा रही है।

पहले चरण में मकान सूचीकरण एवं मकानों की जनगणना तथा राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को अद्यतन किया जाएगा। बैठक के दौरान सभी संबंधित अफसरों को सजगता के साथ समय पर जनगणना कार्य करने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने जनगणना कार्य के लिए सुपरवाइजर, फील्ड ट्रेनर की तैनाती करते हुए उनके प्रशिक्षण हेतु आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। प्रशिक्षित मास्टर ट्रेनरों को शीघ्र ही फील्ड ट्रेनरों एवं सुपरवाइजरों के प्रशिक्षण को प्रारंभ करने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया। उन्होंने कहा कि प्रगणक एवं सुपरवाइजरों का प्रशिक्षण एक महत्वपूर्ण कड़ी है।

बैठक में बताया गया कि शीघ्र ही उनका प्रशिक्षण प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिया कि कैलेंडर ऑफ इवेंट्स तैयार कर लें। बता दें कि जनगणना 2021 के सफल सफल संचालन हेतु जिला स्तरीय समन्वय समिति का गठन किया गया है। इसके अध्यक्ष जिलाधिकारी होंगे। उपाध्यक्ष अपर समाहत्र्ता राजस्व जबकि अपर समाहर्ता आपदा एवं वरीय उप समाहर्ता प्रभारी पदाधिकारी, जिला सामान्य शाखा सदस्य होंगे। जिला सांख्यिकी पदाधिकारी मुजफ्फरपुर नोडल पदाधिकारी होंगे। साथ ही जिला स्तरीय जनगणना कोषांग का भी गठन किया गया है।

कोषांग का कार्यस्थल समाहरणालय स्थित नवनिर्मित सभागार भवन मुजफ्फरपुर के ऊपर का कमरा होगा। जनगणना कोषांग में जिला सांख्यिकी पदाधिकारी, जिला लेखा पदाधिकारी, प्रशिक्षु वरीय उप समाहर्ता अभिषेक, सहायक निदेशक जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग, जिला मत्स्य पदाधिकारी, अनुमंडल कृषि पदाधिकारी पूर्वी और पश्चिमी, उप निदेशक आत्मा, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी शहरी होंगे। इनके साथ अन्य कर्मियों को भी नामित किया गया है।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस