मुजफ्फरपुर, जेएनएन। व्यापार के साथ सामाजिक एवं राजनीतिक गतिविधियों में व्यस्त रहने के कारण हमेशा घर से दूर रहने वाले पूर्व उपमहापौर विवेक कुमार इन दिनों घर में रहकर पूरे परिवार का खाना पका रहे हैं। यहां तक कि बर्तन धोने का काम भी स्वयं कर रहे। पत्नी खुश हैं किक उनको कोई काम नहीं करना पड़ रहा है। वह सिर्फ मार्गदर्शन दे रही हैं।

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए शहर में लॉकडाउन है। शहरवासियों की तरह ही पूर्व उपमहापौर भी अपने घर से बाहर नहीं निकल रहे। घर पर रहकर घर का काम कर रहे हैं। पूर्व उपमहापौर हर दिन सुबह में घर की छत पर एक घंटा योग करते है। फिर अखबार पढ़ते हैं। उसके बाद घर की साफ-सफाई कर पूरे परिवार के लिए नाश्ता बनाते हैं। सबके लिए नाश्ता एवं चाय तैयार करने के बाद दिन का भेजन पकाते हैं। पत्नी उनकी मदद करती हैं। दोपहर में जब सब खाना खा लेते हैं तो बर्तन भी वे स्वयं धोते हैं। उसके बाद मोबाइल एवं सोशल मीडिया की मदद से अपने परिजनों एवं दोस्तों का हाल-चाल लेते हैं और पूरे परिवार के साथ छत पर बैठकर गप-शप करते हैं। शाम में टेलीविजन पर समाचार देख देश-दुनिया के हालात से अवगत होते हैं।

पूर्व उपमहापौर कहते हैं कि सरकार ने लॉकडाउन का फैसला लेकर लोगों की जान बचाने का काम किया है। सभी लोगों का यह फर्ज बनता है कि वे सरकार के निर्देशों को पूरी ईमानदारी का पालन करें। उन्होंने कहा कि यह समय पूरे देशवासियों के लिए परीक्षा की घड़ी है। हर कोई एक-दूसरे से दूर अपने परिवार के साथ समय बिताएं।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस