मुजफ्फरपुर/मोतिहारी, जेएनएन। सरैया उच्च विद्यालय के मैदान मे महागठबंधन के प्रत्याशी डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि एनडीए सरकार ने अनुसूचित जाति एक्ट में हेराफेरी की। वहीं, गरीबो की हकमारी की । शिक्षा, रोजगार, मंहगाई से आम जनता त्रस्त है। वहीं, दलित के सबसे बड़े नेता कहे जाने वाले रामविलास पासवान सत्ता से चिपके हुए हैं तथा अपने समाज को कमजोर कर रहे हैं। अनुसूचित जाति एक्ट को लेकर पूरा हिन्दुस्तान सड़क पर था। मैं भी डाक बंगला चौराहे पर तेजस्वी यादव के साथ धरना दे रहा था तो मुझे रामविलास पासवान ने उच्चाका कहकर संबोधित किया।

  कहा कि रघुवंश सिंह सिंह को वोट दें, महागठबंधन की सरकार बनेगी तथा बिहार में अगली सरकार तेजस्वी यादव के नेतृत्व में बनेगी। वीआइपी नेता मुकेश सहनी ने कहा कि मल्लाह के साथ नरेंद्र मोदी ने धोखा दिया। उनका वोट ठग लिया लेकिन हित में काम नहीं किया। अध्यक्षता राजद नेता शंकर प्रसाद यादव ने की जबकि संचालन प्रखंड अध्यक्ष रामबाबू साह ने किया। सभा को महागठबंधन उम्मीदवार डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह, राजद जिलाध्यक्ष मिथिलेश प्रसाद यादव, उमाशंकर यादव, महेश्वर पासवान, विधायक प्रेमा चौधरी, विधायक रामविलास पासवान आदि ने संबोधित किया। मांझी व मुकेश सहनी काफी विलंब से 12 बजे के बदले चार बजे पहुंचे।

चौकीदार चौकन्ना रहते तो नहीं होती पुलवामा की घटना

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा की अजहर मसूद को आतंकवादी घोषित करने के लिए पीएम मोदी ने देश को गुलामी की ओर ले जाने वाली पांच शर्तों को मानी है। जिसमे चीन से पाकिस्तान तक की सड़क शामिल है। हमारा पुराना मित्र देश ईरान जहां से भारतीय करेंसी से तेल आयात होता था, लेकिन अमेरिका के दबाव में अब डॉलर पर आयात करने की बात हो रही है। पुलवामा की घटना हुई, जहां एक ग्राम आरडीएक्स रखना जुर्म है तो तीन ङ्क्षक्वटल आरडीएक्स कहां से आ गया। देश के पीएम कहते हैं कि मैं चौकीदार हूं। यदि वे चौकन्ना रहते तो यह घटना नहीं होती।

  नप के धनही स्थित महारानी जानकी कुंवर स्टेडियम में गुरुवार को बेतिया लोकसभा क्षेत्र से रालोसपा प्रत्याशी ब्रजेश कुशवाहा के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। कहा कि एक सोची समझी साजिश के तहत लालू प्रसाद व उनके परिवार को प्रताडि़त करने के लिए फंसाया जा रहा है। यदि महागठबंधन की सरकार बनी तो लालू यादव को इंसाफ मिलेगा। नीतीश कुमार कुर्सी के लिए किसी से भी समझौता कर लेते हैं। वही वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा कि मोदी की सरकार पूंजीपतियों की सरकार है।

  मोदी ने घोषणा की थी कि दो करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे। सभी गरीब के खाते में 15 लाख रुपये भेजेंगे। पांच साल बीत गया, लेकिन कोई काम नहीं हुआ। महागठबंधन की सरकार बनी तो गरीब, किसान, शोषित, मजदूर व युवाओं के लिए काम करेगी मौके पर ओमप्रकाश चौधरी, सहकारिता निदेशक मनोज सहनी, अरङ्क्षवद यादव, नजीर अहमद, अफरोज अंसारी, जयप्रकाश यादव, संजय ठाकुर, राधेश्याम शर्मा, अजहर आलम, सुरेन्द्र यादव, विक्रमा यादव, भुआली ठाकुर, प्रेमचंद कुशवाहा, रूपेश कुमार, हारुण रशीद सहित कई मौजूद थे।

शराबबंदी का खामियाजा सबसे ज्यादा महादलित को मांझी

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी हरसिद्धि प्रजापति माध्यमिक विद्यालय के प्रांगण में गुरुवार को महागठबंधन के लिए ने एक जनसभा को संबोधित किया। कहा कि सरकार में जब शराब बंदी हुई तो शराबबंदी के खामियाजा सबसे ज्यादा महादलित वर्ग को भुगतना पड़ा है। गरीब परिवार के लोग ही आज भी पकड़े जा रहे हैं और जेल जा रहे हैं। 15 माह के लिए नीतीश कुमार द्वारा मुख्यमंत्री मनाया गया, लेकिन जब हमने अपने लोगों के बीच काम करना शुरू किया और विकास की दर को आगे बढ़ाया नीतीश कुमार को लगा कि माझी जी हमसे आगे चले जाएंगे और लोकप्रिय बन जाएंगे। इसलिए उन्होंने इस महादलित परिवार को बेटे को मुख्यमंत्री पद से हटा दिया।

  सभा को विधायक राजेन्द्र राम, निर्मला साहनी, राजेन्द्र यादव कमरुज्जमा, फारूक आजम, सुनील कुमार, नयन कुशवाहा, इंजीनियर कपिलदेव राम आदि ने संबोधित किया। अध्यक्षता कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष नेयाज अहमद खान ने व संचालन राजद प्रखंड अध्यक्ष नगेंद्र राम ने किया। मौके पर अख्तर हुसैन, एजाज आलम, विनोद सहनी, जावेद हुसैन, रामधारी सहनी, प्रदीप कुमार यादव, संजय यादव, गणेश मांझी, रवि रंजन कुमार, हजारी प्रसाद, नंदलाल दास उपस्थित थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप