मुजफ्फरपुर, जेएनएन। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से आत्मघाती हमले की आशंका को लेकर पुलिस की विशेष शाखा ने अलर्ट जारी किया है। विशेष शाखा के अपर पुलिस महानिदेशक ने एसएसपी को पत्र भेजा है। इसमें सुरक्षा के चार बिंदुओं पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। अलर्ट में ऑपरेशन सुरक्षा को सख्ती से लागू करने का भी निर्देश जारी किया गया है।

दंगा फैलाने की कोशिश

कहा गया है कि वैश्विक आतंकी समूह सोशल मीडिया के माध्यम से देश में माहौल बिगाडऩे की साजिश रच रहे हैं। भारत विरोधी संस्थाएं व संगठन शहरों में सांप्रदायिक दंगा फैलाने की कोशिश में हैं। इन संस्थाओं व संगठनों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया गया है। इस अलर्ट के आलोक में एसएसपी ने सभी थानाध्यक्षों को सूचना तंत्र को मजबूत करने, संदिग्ध व्यक्तियों, समूहों की गतिविधियों पर नजर रखने, प्रमुख धार्मिक व पर्यटन स्थलों की सुरक्षा को बढ़ाने का निर्देश जारी किया है।

सांप्रदायिक माहौल बिगाडऩे की साजिश

आतंकवाद से संबंधित पुराने कांडों की समीक्षा करके उसमें शामिल अभियुक्तों, सजायाफ्ता और कांडों में रिहा आरोपितों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए कहा गया है। विशेष शाखा से जारी अलर्ट में बताया गया है कि ग्लोबल टेररिस्ट ग्रुप सोशल मीडिया के माध्यम से देश में सांप्रदायिक माहौल बिगाडऩे की साजिश रच रहे हैं। साइबर स्पेस का सहारा लेकर प्रमुख नेताओं, पुलिस थाने, धार्मिक व पर्यटन स्थलों, पुलिस व सेना के प्रशिक्षण शिविर को आइएसआइ के टारगेट करने की आशंका है। इसलिए सोशल मीडिया व साइबर ग्रुप पर विशेष निगरानी रखें। इसके लिए आइटी सेल को पूरी तरह सक्रिय करने के लिए कहा गया है। किसी भी तरह के संदिग्ध मैसेज को तुरंत पहचान कर संबंधित तक पहुंचने की मुकम्मल व्यवस्था करने का निर्देश भी दिया गया है। सौहार्द को बनाए रखने के लिए स्थानीय स्तर पर सतत प्रयास किए जाने पर बल दिया गया है।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस