समस्तीपुर, जासं। मोहिउद्दीनगर थाना क्षेत्र अन्तर्गत बिहार ग्रामीण बैंक शाखा महमद्दीपुर के मैनेजर संदीप आनंद को महिला थाना पुलिस ने हिरासत में लिया है। उसके उपर शादी का झांसा देकर करीब 3 वर्षों तक शारीरिक शोषण करने का आरोप है। इसकी पुष्टि महिला थानाध्यक्ष पुष्पलता कुमारी ने की। बताया कि युवती विभूतिपुर के बिहार ग्रामीण बैंक शाखा कल्याणपुर में खाता से संबंधित काम को लेकर गई थी। रिश्तेदारी जोड़कर संदीप ने युवती की पहचान कर बातें करने लगा।

विगत 4 जून 2018 को खाता खुलवा दिया। इसके बाद उसके साथ हंसी-मजाक करने का प्रयास करते हुए शादी का प्रस्ताव दिया। जिसे युवती ने इन्कार किया तो उसे एंड्राइड मोबाइल खरीद कर दिया। उसके बैंक खाते पर विगत 30 जून 2018 को रुपया भेजकर भावनात्मक जुड़ाव शुरू कर दिया। युवती ने शादी के प्रस्ताव को जब मान लिया तो बैंक के नम्बर से फोन कर बातचीत करने लगा। आरोपित बैंक मैनेजर दलङ्क्षसहसराय के एक बंद पड़े पेट्रोल पम्प के पीछे किराए के मकान में रहता था। विगत 18 जुलाई 2018 को अपनी बाइक पर बिठाकर वहां ले गया और संध्या तकरीबन 7 बजे युवती के साथ शारीरिक संबंध बनाया। इससे पूर्व मैनेजर ने यह शपथ लिया था कि परिवार वालों को शादी के लिए राजी कर लूंगा। युवती झांसे में आ गई। इस क्रम में आरोपी का स्थानांतरण बिहार ग्रामीण बैंक शाखा महमद्दीपुर हो गया। वहां से भी बैंक के नम्बर से युवती से फोन पर बातचीत करता और किराए के मकान में बुलाकर शारीरिक संबंध बनाता रहा। अब, बैंक मैनेजर किसी दूसरे जगह 20 लाख रुपये दहेज मिलने और पीडि़ता के माता- पिता के अक्षम होने का हवाला देकर शादी करने से इन्कार कर दिया है। विवश होकर पीडि़ता विभूतिपुर थाने और महिला थाने में न्याय की गुहार लगाने पहुंची थी। थानाध्यक्ष पुष्पलता कुमारी ने बताया कि आरोपित बैंक मैनेजर संदीप आनंद को पुलिस हिरासत में ली गई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए गहन पूछताछ के बाद न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा।