मुजफ्फरपुर, जेएनएन। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, पटना द्वारा संचालित इंटर की सेंटअप परीक्षा को कई डिग्री कॉलेजों एवं प्लस टू उच्च विद्यालयों ने माखौल बना दिया है। दर्जनों कॉलेजों व उच्च विद्यालयों द्वारा समय पर रिजल्ट भेजना तो दूर अभी तक परीक्षा भी नहीं कराई गई है। इस तरह करीब 30 हजार छात्र-छात्राओं के भविष्य से खिलवाड़ किया गया है। इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी डॉ. विमल ठाकुर ने सभी कॉलेजों से रिजल्ट भेजने को लेकर जवाब तलब किया है। हालांकि, बोर्ड ने रिजल्ट भेजने की तिथि 9 से बढ़ाकर 14 कर दी थी।

परीक्षा कराना अनिवार्य

सेंटअप परीक्षा प्री बोर्ड परीक्षा होती है। बोर्ड ने इसे लेकर नियम सख्त बना दिया है। सभी प्लस टू उच्च विद्यालयों एवं डिग्री कॉलेजों को परीक्षा कराकर रिजल्ट जिला शिक्षा विभाग के कार्यालय में भेज देना है। परीक्षा न कराने पर छात्रों के इंटर का रजिस्ट्रेशन तक रद हो सकता है। लेकिन, स्थिति यह है कि अभी तक मात्र 50 फीसद प्लस टू उच्च विद्यालयों एवं डिग्री कॉलेजों ने ही सेंटअप परीक्षा कराकर रिजल्ट भेजा है।

कॉलेजों को परीक्षा कराने का समय नहीं

अक्टूबर के अंतिम सप्ताह से डिग्री कॉलेजों में बीआरए बिहार विवि की स्नातक पार्ट - थ्री की परीक्षा चल रही है। इसके कारण उनके पास इंटर की सेंटअप परीक्षा कराने के लिए उपयुक्त स्थान उपलब्ध नहीं है। लिहाजा अनिवार्य होने के बावजूद ज्यादातर कॉलेजों में परीक्षा नहीं हो सकी।

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने संबंधित उच्च विद्यालयों एवं कॉलेजों को परीक्षा कराने की तिथि नौ नवंबर से बढ़ाकर 14 नवंबर कर दी है। इसके बावजूद स्थिति में खास सुधार नहीं हुआ है।

कार्रवाई को लेकर उलटी गिनती शुरू

जिला शिक्षा पदाधिकारी कॉलेजों के इस रवैये पर बेहद नाराज हैं। उनका कहना है कि प्री बोर्ड परीक्षा को गंभीरता से नहीं लेना चिंताजनक है। सभी कॉलेजों व प्लस टू के उच्च विद्यालयों के प्राचार्य/प्रधानाचार्य से जवाब तलब किया गया है। 14 नवंबर को देर शाम तक जिन कॉलेजों व प्लस टू विद्यालयों का आएगा। उसके बाद सूची बनाकर रिजल्ट न भेजने वाले कॉलेजों के संबंध में बोर्ड से मार्गदर्शन प्राप्त कर कार्रवाई की जाएगी।

ये है आंकड़ा

कुल प्लस टू उच्च विद्यालय 123

डिग्री कॉलेज अनुदानित

व गैर अनुदानित 59

कुल 182

रिजल्ट भेजा 90

 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस