शिवहर, जासं। Bihar Lockdown Day 1: लाकडाउन की पहली सुबह शिवहर शहर में लोगों की भीड़ उमड़ी रही। बुधवार की सुबह सात बजते ही शहर की अधिकांश दुकानें खुल गई। वहीं खरीदारी के लिए दुकानों पर ग्राहकों की कतारें लग गई। इस दौरान ग्राहकों की उमड़ी भीड़ में कोविड गाइडलाइन गुम होता दिखा। कुछ हद तक लोग मास्क लगाए जरूर नजर आए। लेकिन शारीरिक दूरी पालन जैसी कोई तस्वीर नहीं दिखी। लोग बेखौफ नजर आए। साथ ही एक-दूसरे के करीब आकर खरीदारी करते नजर आए।

शिवहर शहर के जीरोमाइल, मेन रोड, गुदरी बाजार, राजस्थान चौक, थाना रोड, रजिस्ट्री आफिस चौक, सिनेमा रोड, कुशहर रोड और समाहरणालय के आसपास के इलाकों में जबरदस्त भीड़ दिखी। बाइक और कार का भी परिचालन होता दिखा। सब्जी और फल मंडी में जबरदस्त भीड़ रही। रमजान को लेकर ग्राहकों की संख्या अधिक रही। उधर, कोविड गाइडलाइन और लाकडाउन का पालन कराने के लिए अधिकारियों की टीम अलसुबह ही सड़क पर उतर गई। एसडीओ मो. इश्तियाक अली अंसारी के नेतृत्व में प्रशासनिक टीम ने शारीरिक दूरी पालन और मास्क की अनिवार्यता को अभियान चलाया।

वहीं शहर के बाजारों में उमड़ी भीड़ को नियंत्रित किया। उधर, शिवहर शहर में नगर थानाध्यक्ष रघुनाथ प्रसाद के नेतृत्व में निकली पुलिस की टीम ने सख्ती बरती। इस दौरान बेवजह घर से निकले लोगों को खदेड़ कर भगाया। साथ ही टेंपो चालकों पर लाठियां चटकाए। शिवहर शहर के अलावा पिपराही, पुरनहिया, तरियानी और डुमरी कटसरी के इलाकों में भी प्रशासनिक टीम गश्त लगाती रही।

बताते चलें कि, बिहार सरकार द्वारा मंगलवार की आधी रात से 15 मई तक पूरे बिहार में लॉकडाउन लागू किया गया है। इसके तहत सुबह सात से 11 बजे तक ही आवश्यक खाद्य सामग्री, फल, सब्जी, मांस-मछली, दूध व पीडीएस की दुकान खोलने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा सरकारी-गैर सरकारी अस्पताल, पशु अस्पताल, दवा दुकान, एंबुलेंस सेवा व मेडिकल से संबंधित प्रतिष्ठान खुले रहेंगे। शेष सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान, सरकारी-गैर सरकारी कार्यालय, स्कूल व कोचिंग बंद रहेंगे। लॉकडाउन का पालन कराने के लिए डीएम ने बड़ी संख्या में अधिकारी, पुलिस पदाधिकारी और सशस्त्र बल की प्रतिनियुक्ति कर दी है। लॉकडाउन के दौरान वाहनों का परिचालन पूरी तरह बंद रहेगा। नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप