दरभंगा, जासं। Pappu Yadav Current News: दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चार दिनों से इलाजरत पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की हालत पहले से बेहतर है। मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. उमेश चंद्र झा रोज गहन चिकित्सा कक्ष में भर्ती पूर्व सांसद के स्वास्थ्य की जांच कर रहे हैं। विभागाध्यक्ष डॉ. झा ने बताया कि पूर्व सांसद की हालत बेहतर है। उनके इलाज के लिए अलग से दो डॉक्टर और दो स्टाफ नर्स समेत वार्ड अटेंडेंट की तैनाती 24 घंटों के लिए तैनात हैं।

यह भी पढ़ें : समस्तीपुर के दारोगा ने थाने में नई-नई आई महिला सिपाही के साथ की गंदी बात

बता दें कि पूर्व सांसद पप्पू यादव को पटना पुलिस ने मंगलवार को लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर हिरासत में लिया था। इस बीच मधेपुरा पुलिस ने उन्हें जिले के कुमारखंड थाना में दर्ज कांड संख्या 9/89 में गिरफ्तार कर लिया था। मंगलवार की ही देर रात वीडियो कॉंफ्रेंङ्क्षसग के जरिए उनकी पेशी मधेपुरा कोर्ट में की गई। वहां से उन्हें चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बने क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया गया था। मधेपुरा पुलिस ने उन्हें वीरपुर में भेजा था। इस बीच उनकी तबीयत बिगड़ी। मेडिकल बोर्ड ने उन्हें बेहतर चिकित्सा के लिए गुरुवार को दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा। यहां उन्हें गहन चिकित्सा कक्ष में भर्ती किया गया है। जहां उनकी जांच व चिकित्सा चल रही है।

यह भी पढ़ें: क्या हमलोग 21वीं सदी में रह रहे? डायन बताकर महिला के बाल काटे, मैला पिलाया और..., मधुबनी की घटना

रिहाई को लेकर जाप कार्यकर्ताओं ने कराया मुंडन

दरभंगा : जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव की रिहाई की मांग को लेकर सोमवार को कार्यकर्ताओं ने मुंडन कराकर नीतीश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. मुन्ना खान के आवासीय कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने पंक्ति में बैठकर मुंडन कराया। इसके बाद सभी कार्यकर्ताओं ने तख्ती के साथ नीतीश सरकार के खिलाफ विरोध जताया। वक्ताओं ने कहा - नीतीश कुमार की डबल इंजन सरकार जनता सेवा करने की दावा कर रही है। लेकिन, यह सरकार भ्रष्टाचारियों के खिलाफ आवाज बुलंद कर रही है। समाज सेवा करने वालों को पकड़ कर जेल भेज रही है। एंबुलेंस चुराने वाले, दवाओं की कालाबाजारी करने वाले और प्राइवेट नर्सिंग होम के माफियाओं को खुली छूट देकर गरीब लोगों का खून चूसा जा रहा है। सरकार इन लोगों को संरक्षण देने का काम कर रही है। आवाज उठाने को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। इसका उदाहरण पप्पू यादव हैं, जिन्हें मारने के लिए यहां-वहां घुमाया जा रहा है। यह काम गरीबों की आवाज को दबाने के लिए के लिए किया जा रहा है। लेकिन, जनता सब समझ रही है। समय आने पर आम लोग किसी को बख्शे वाले नहीं हैं। मौके पर युवा जिला अध्यक्ष चुनमुन यादव, महिला नगर अध्यक्ष आसमा खातून, मो. अफरोज, काशिफ इकबाल, नफीस खान, मो. मेराज, दस्तगीर अंसारी, मोनू, मिन्नतुल्लाह अंसारी, डॉ. बारिश आदि शामिल थे।