समस्तीपुर, जागरण संवाददाता। समस्तीपुर जिले के मोहनपुर में दुर्गा पूजा के दौरान पत्थर वाला दुर्गा मंदिर प्रांगण में आर्केष्ट्रा के दौरान पुलिस वर्दी में डांसर के साथ डांस करना चौकीदार पुत्र को महंगा पड़ गया। पुलिस वर्दी में डांस के बाद वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधीक्षक के आदेश पर कार्रवाई की गई है। मोहनपुर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करते हुए गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं बिना अनुमति के आर्केष्ट्रा कराने पर पूजा समिति समेत 14 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। यह प्राथमिकी ओपी अध्यक्ष पवन यादव के बयान पर दर्ज की गई है। कार्यक्रम में पुलिस की वर्दी पहनकर नर्तकियों के साथ डांस करने वाले चौकीदार पुत्र संजीत पासवान को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। वह मोहनपुर ओपी के चौकीदार मदन पासवान का पुत्र है। पिछले दिनों नर्तकी के साथ संजीत का वर्दी में डांस करते हुए वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ था । 

वायरल वीडियो पर नजर पड़ते ही पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो ने तत्काल जांच के आदेश दिए। इसके पुलिस हड़कत में आयी। पुलिस की वर्दी को बदनाम करने वाले को गिरफ्तार कर लिया गया। इतना ही नहीं दुर्गा पूजा समिति को मेला नहीं लगाने और किसी प्रकार का कार्यक्रम नहीं करने की हिदायत के बावजूद आर्केष्ट्रा कराने को लेकर कार्रवाई की गई है। पूजा समिति के 14 सदस्यों पर प्राथमिक दर्ज की गई है। प्राथमिकी में पत्थर वाला दुर्गा पूजा समिति मोहनपुर के अध्यक्ष रंजन कुमार रवि के अलावा चंदन कुमार, बलवीर कुमार, अविनाश कुमार, संजीत कुमार, रंजीत कुमार (द्वय), राजा कुमार, महेश कुमार, बिट्टू कुमार, रविंद्र कुमार, रवि कुमार, पंकज कुमार, विकास कुमार शामिल हैं। बताया जाता है कि चौकीदार पुत्र संजीत पासवान पिछले दो साल से अपने पिता की जगह काम करता था। इसलिए वह हमेशा चौकीदार की वर्दी पहने रहता था। 

Edited By: Ajit Kumar