मुजफ्फरपुर, जासं। आमगोला में चिकेन कारोबारी के कर्मी रोहित कुमार को गोली मारने वाले शूटर की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में यह बात सामने आई कि उसकी पत्नी के साथ दुष्कर्म किया गया था। इसलिए उसने मोतिहारी से चोरी की बुलेट व बेगूसराय से पिस्टल खरीदकर प्रतिशोध में हत्या की नीयत से रोहित को गोली मार दी। गोली लगने के बाद वह घायल हो गया था। इलाज के बाद पुलिस ने उसे दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। महिला थानाध्यक्ष नीरू कुमारी ने बताया कि शूटर की पत्नी के बयान पर दुष्कर्म की प्राथमिकी दर्ज की गई है। मामले में महिला का मंगलवार को मेडिकल जांच कराया गया। बुधवार को कोर्ट में उसका 164 का बयान दर्ज कराया जाएगा। वहीं आरोपित कर्मी रोहित को पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में प्रस्तुत किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

महिला थानाध्यक्ष का कहना है कि शीघ्र ही चार्जशीट दायर कर स्पीडी ट्रायल से आरोपित को सजा दिलाने की कवायद की जाएगी। बता दें कि पिछले पखवारे आमगोला में चिकेन कारोबारी के कर्मी रोहित को बुलेट सवार शूटर द्वारा गोली मार दी गई थी। मामला दर्ज करने के बाद पुलिस ने इसकी जांच शुरू की। इसी क्रम में पूरा मामला सामने आया। मामले में शूटर को लोडेड पिस्टल व चोरी की बिना नंबर की बुलेट के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। शूटर पूर्वी चंपारण का रहने वाला है। वर्तमान में वह आमगोला ब्रह्कुमारी लेन में रहता था। शूटर ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी से दुष्कर्म किया था। इसके प्रतिशोध में उसने कर्ज लेकर बेगूसराय से ईटली आटो पिस्टल खरीदा। साथ ही मोतिहारी से चोरी का बुलेट खरीदकर लाया। इसके बाद रात में सुनसान देखकर वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस ने उसके पास जब्त की गई मोबाइल से कई बातों की जानकारी हासिल की है। पुलिस का कहना है कि मोतिहारी व बेगूसराय पुलिस से संपर्क किया गया है। इसके आधार पर चोरी की बुलेट उपलब्ध कराने वाले गिरोह के शातिर व आम्र्स सप्लाई करने वाले बेगूसराय के तस्करों पर भी नकेल कसा जाएगा। बता दें कि फिलहाल शूटर को आम्र्स एक्ट के मामले में जेल भेजा गया है। जल्द ही उसे चिकेन कर्मी को गोली मारने के मामले में रिमांड पर लेने की कवायद की जाएगी। 

Edited By: Ajit Kumar