मधुबनी, जेएनएन। मानवता को कलंकित करने वाली एक घटना ने सभ्य समाज का चेहरा दागदार कर दिया है। अंधराठाढ़ी थाना क्षेत्र के एक गांव में एक महिला के साथ निर्ममतापूर्वक बीच चौराहे पर मारपीट का मामला सामने आया है। इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वाइरल वीडियो में दिख रहा है कि मोहल्ले की कुछ औरतें पीडि़ता को लाठी-डंडे से बुरी तरह पीट रही है। महिला हाथ जोड़कर उनसे जान की भीख मांग रही है। उसके कपड़े पूरी तरह अस्त-व्यस्त है और सामने दर्जनों लोग महिला को बचाने की जगह मूकदर्शक बन खड़े हैं। स्थानीय पुलिस आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

 हालांकि, जागरण इस वीडियो के सही होने की पुष्टि नहीं करता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विगत नौ जुलाई को पीडि़त महिला का गांव की ही एक आंगनवाड़ी सेविका लीला देवी एवं उनके पति मोती महतो से विवाद हुआ था। विवाद होने के बाद उसने आंगनवाड़ी सेविका एवं उनके पति के खिलाफ अंधराठाढ़ी थाना में लिखित शिकायत की थी। इसकी जानकारी जब सेविका और उनके पति को हुई तो उन्होंने मुहल्ले के लोगों को महिला के खिलाफ भड़काकर दर्जनों की संख्या में जुट कर शुक्रवार को सुबह नौ बजे दिन में पीडि़ता के घर पर हमला कर दिया। आरोपियों ने पीडि़ता को घर से घसीटते हुए गांव के चौक पर लाया। फिर शर्मनाक स्थिति में जमकर उसके साथ मारपीट की गई।

 विडंबना यह कि एक महिला के साथ सरेआम हुई इस शर्मनाक घटना का नेतृत्व खुद आंगनवाड़ी सेविका कर रही थी। इस घटना में पीडि़ता ने गांव के कुल 13 लोगों को आरोपित किया है। पीडि़ता का अब तक समुचित इलाज भी नहीं हो सका है। वह काफी डरी-सहमी है। पीडि़त महिला के साथ जब शर्मनाक घटना हो रही थी, उसी समय किसी ने इस घटना की वीडियो बनाकर उसे वायरल कर दिया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस