मुजफ्फरपुर, जेएनएन। तमाम सख्ती के बावजूद शहर में कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार होता नहीं दिख रहा। हां, बदमाशों की बदली कार्यशैली के कारण नागरिकों की परेशानी जरूर बढ़ गई है। अब लुटेरों को ही लें, वे ऑटो चालक और यात्री बनकर भोले-भाले लोगों को अपना शिकार बना रहे। ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र में शुक्रवार को ऐसी घटना घटी। जिसमें यात्री की सतर्कता से वे लुटने से बच गए और सभी अपराधी पुलिस की गिरफ्त में हैं।

पांच बदमाश गिरफ्तार

ब्रह्मपुरा थाना के चांदनी चौक पर ऑटो सवार से कैश छिनतई करते पांच बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस इन सभी से पूछताछ कर नाम पते का सत्यापन कर रही है। बदमाशों में ऑटो चालक भी है। उसका ऑटो भी जब्त कर लिया गया है।

संदिग्ध था आॅटो चालक का व्यवहार

इस संबंध में पीडि़त साहेबगंज रजवाड़ा के बृजकिशोर पांडेय ने बताया कि पोते का जन्मदिन था। उसे उपहार में देने के लिए साइकिल खरीदने के लिए शहर आया था। घर से सात हजार रुपये लेकर निकला। बस से चांदनी चौक पहुंचे। वहां से भगवानपुर स्थित अपने पुत्र के कमरे पर जाने की सोच रहे थे। इसी बीच एक ऑटो आकर रुका। चालक ने भगवानपुर जाने की बात बोलकर बैठा लिया। लेकिन, वह वहीं पर ऑटो को घुमाता रहा। संदेह होने पर उन्होंने अपने कुर्ता की जेब को पकड़ लिया। लेकिन, ऑटो सवार बदमाशों ने जबरन उन्हें हाथ बढ़ाने को कहा। इसी बीच एक बदमाश पैसा छीनने लगा।

पीडि़त ने मचा दी शोर

पीडि़त की नजर गश्त लगा रही पुलिस पर पड़ी। उन्होंने शोर मचाना शुरू किया। पुलिस को कुछ गड़बड़ लगा। उसने ऑटो का पीछा करना शुरू किया। इसके बाद ऑटो सवार सभी बदमाशों को दबोच लिया। शुक्र है, बृजकिशोर पांडेय लुटते-लुटते बच गए। यदि उन्होंने सजगता नहीं दिखाई हाेती तो वे भी आज हाथ मल रहे होते। इसलिए हमेशा सजग रहने की जरूरत है। ऑटो से यात्रा करते हुए अतिरिक्त सावधान रहें। ऑटो चालक या सहयात्री का व्यवहार संदिग्ध होते ही पुलिस को बुलाएं या लोगों से मदद मांगें।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस