मुजफ्फरपुर। कुढ़नी थाना क्षेत्र की केरमाडीह पंचायत में गर्भवती नवविवाहिता का शव साड़ी से फंदे पर लटका मिला। उसकी पहचान राजकुमार सहनी की पत्नी हंसमुख कुमारी (25) के रूप में हुई। बताया गया कि सास गायत्री देवी के बार-बार कहने पर भी पति ने उसका अल्ट्रासाउंड नहीं कराया। मुखिया प्रतिनिधि मुकेश पासवान ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

सास को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। उसने बताया कि बहू के गर्भ में पल रहे नवजात की जाच के लिए अल्ट्रासाउंड कराने की बेटे से दो दिनों से मांग कर रही थी। इसको लेकर विवाद चल रहा था। सोमवार को दोपहर में बहू ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। हंसमुख की मां थाना क्षेत्र के ही किशुनपुर मधुबन निवासी ने पुत्री की हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है। पति राजकुमार सहनी पुणे मे गैरेज में काम करता है। घर में वह सास-ससुर के साथ रहती थी। उसके एक चार वर्षीय पुत्री है।

मोतीपुर में दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर विवाहिता की हत्या का लगाया आरोप : मोतीपुर थाने के रसुलपुर में फंदे से लटकी मिली विवाहिता की मौत मामले में सोमवार को थाने में आवेदन दिया गया है। इसमें उसके पिता ने ससुरालीजनों पर दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर हत्या करने का आरोप लगाया है। बरूराज थाने के मीनापुर निवासी मोहम्मद अब्बास अंसारी ने आवेदन में कहा है कि 10 माह पहले पुत्री शहनाज प्रवीण की शादी रसुलपुर में मोहम्मद शहजाद आलम के साथ की थी। शादी के बाद से ससुरालीजन दहेज में एक लाख रुपये व बाइक मांग रहे थे। इसको लेकर उसे प्रताड़ित किया जाता था। मांग पूरी नहीं होने पर रविवार शाम ससुरालीजनों ने उसकी घर में ही हत्या कर दी। ग्रामीणों की सूचना पर वहां पहुंचे तो बिछावन पर शव पड़ा था। घर के सभी सदस्य फरार थे। इसमें ससुर मोहम्मद वाहिद अंसारी, नजबुन निशा, नौशाद आलम, मोहम्मद शहजाद आलम, गुलनाज खातून आदि को आरोपित बनाया गया है। पुलिस जांच कर कार्रवाई कर रही है।

Edited By: Jagran