सीतामढ़ी, जेएनएन। कोरोना अस्पतालों में इलाजरत मरीजों के साथ-साथ होम आइसोलेशन में रहकर स्वास्थ्य लाभ लेने वालों की चिंता भी डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा कर रही हैं। गुरुवार को उन्होंने चार घंटे तक वैसे लोगों से अलग-अलग बात कर उनका हालचाल जाना। होम आइसोलेशन में रहने वाले 18 मरीजों से उन्होंने सिलसिलेवार बात की। उनको जरूरी टिप्स भी दिए तथा यह भी पूछा कि चिकित्सक उनकी खोज-खबर ले रहे हैं या नहीं? उन्हें जल्द स्वस्थ होने की शुभकामनाएं भी दीं।

टेलीमेडिसिन सेेंटर का लाभ लेने की सलाह

उन्होंने कहा कि अगर आपको कोई भी समस्या या परेशानी हो तो टेलीमेडिसिन सेेंटर पर उपस्थित डॉक्टरों से तुरन्त बात करें। इसके बाद डीएम ने कोविड हेल्थ सेंटर से ही सीधे सदर अस्पताल स्थित जिला चिकित्सकीय परामर्श केंद्र सह टेलीमेडिसिन सेंटर रवाना हुईं। वहां पहुंचकर कर्मियों एवं डॉक्टरों से बातें की। सिविल सर्जन एवं वरीय उपसमाहर्ता को निर्देश दिया कि प्रतिदिन इस सेंटर की गतिविधियों की ठीक ढंग से मॉनीटङ्क्षरग करें और रिपोर्ट करें।

कोरोना अस्पताल में औचक जांच में पहुंचीं डीएम

डुमरा स्थित महिला आईटीआइ कोरोना अस्पताल में जाकर जिलाधिकारी अभिलाषा कुमारी शर्मा ने वहां की व्यवस्था का जायजा लिया। डीएम औचक निरीक्षण में पहुंच गई थीं। डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में रह रहे कोरोना संक्रमित मरीजों को उपलब्ध सुविधाओं का उन्होंने जायजा लिया। मरीजों को ससमय खाना, गर्म पानी, दवा आदि सुविधा के संबध में मौजूद चिकित्सकों से जानकारी ली।

स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के आलोक में मरीजों को सभी सुविधाएं अनिवार्य रूप से उपलब्ध करवाने की हिदायत दी। असप्ताल कैंपस में बारिश के चलते चारों तरफ जलजमाव लगा हुआ है उससे मुक्ति के लिए अफसरों को कहा। इसी कैंपस में जिलाधिकारी ने अपने हाथों पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने की कोशिश की। कोरोना अस्पताल में कार्यरत डॉक्टरों एवं कर्मियों से भी फीड बैक लिया। उनके कार्यो की सराहना करते हुए उन्होंने प्रोत्साहित भी किया। मौके पर वरीय पदाधिकारी कोविड केयर सेंटर महेश कुमार दास, सिविल सर्जन डॉ. राकेश कुमार, नोडल पदधिकारी कोविड डॉ. आरके यादव, डीपीआरओ परिमल कुमार सहित कई पदाधिकारी उपस्थित थे।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस