मुजफ्फरपुर, जेएनएन। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन व राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के विरुद्ध दाखिल परिवाद की सुनवाई माननीयों के विशेष कोर्ट में होगी। एईएस से हो रही बच्चों की मौत के मामले को लेकर अहियापुर थाना क्षेत्र के भीखनपुर निवासी तमन्ना हाशमी ने 17 जून को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) सूर्यकांत तिवारी के कोर्ट में दाखिल किया था। मामला एमपी-एमएलए से जुड़े होने के कारण सीजेएम ने परिवाद को माननीयों के मामले की सुनवाई के लिए गठित एसीजेएम-प्रथम ऋचा भार्गव के कोर्ट में स्थानांतरित कर दिया है।

 वहां 28 जून को इस मामले की सुनवाई होगी। परिवाद में तमन्ना हाशमी ने आरोप लगाया गया है कि दोनों ने अपने कर्तव्यों का पालन नहीं किया। गांवों में जागरूकता अभियान नहीं चलाने के कारण सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 82 बच्चों की मौत एईएस से हो चुकी है। इस बीमारी का प्रभाव मुजफ्फरपुर और आसपास के क्षेत्रों में है। बीमारी को लेकर आज तक कोई शोध नहीं किया गया। आरोपितों की लापरवाही के कारण बच्चों की मौत हुई है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस