मुजफ्फरपुर, जेएनएन। नगर थाने की पुलिस ने लाखों की सरकारी राशि के गबन मामले में साहेबगंज स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित स्वास्थ्य निरीक्षक वैद्यनाथ प्रसाद को स्वास्थ्य केंद्र परिसर से गिरफ्तार किया। पूछताछ के बाद उसे जेल भेज दिया गया। वह मूल रूप से सीतामढ़ी के बेला परिहार थाना के विष्णुपुर गांव का निवासी है। वैद्यनाथ पर कालाजार-मलेरिया उन्मूलन योजना के करीब 3.4 लाख रुपये का गबन करने का आरोप है।

स्वास्थ्य निरीक्षक का आरोप से इन्कार

नगर थानाध्यक्ष ओमप्रकाश ने बताया कि सात साल पुराना मामला है। आरोप सही पाए जाने व जांच रिपोर्ट के आधार पर आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। वहीं स्वास्थ्य निरीक्षक का कहना है कि उसे साजिश के तहत फंसाया गया है। मलेरिया विभाग के एक कर्मचारी ने पूरी साजिश रची थी। बैंक से सरकारी योजना की राशि निकालने का फुटेज भी है।

यह है मामला

दिसंबर 2012 में कालाजार-मलेरिया उन्मूलन योजना के लिए 3.4 लाख रुपये की राशि विभाग को मिली थी। बाद में राशि की अवैध निकासी एक चेक के माध्यम से करने का मामला सामने आया था।

जनवरी 2013 को तत्कालीन एसीएमओ डॉ. जेपी रंजन ने इसकी जांच शुरू की।

पता चला कि तत्कालीन मलेरिया पदाधिकारी के नाम से बैंक में खाता था। इसी खाते से अवैध निकासी की गई थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर तत्कालीन मलेरिया पदाधिकारी के अलावा स्वास्थ निरीक्षक और एक इंचार्ज को भी आरोपित बनाकर प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। उक्त मलेरिया पदाधिकारी और इंचार्ज पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।  

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप