मुजफ्फरपुर, जेएनएन। महाशिवरात्रि के अवसर पर बाबा गरीबनाथ मंदिर से निकलने वाली शिव बरात के स्वर्ण जयंती वर्ष पर इस बार विशेष व्यवस्था की जा रही है। इसे लेकर रविवार को मंदिर के सत्संग सभागार में बैठक बुलाई गई। जिसमें मंदिर प्रशासक, न्यास समिति के पदाधिकारी व सदस्य सहित सभी सेवा दलों के प्रतिनिधि शामिल हुए। अध्यक्षता जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने की। सब लोगों से व्यवस्था को लेकर राय ली गई। इस दौरान कई महत्वपूर्ण बातें सामने आईं।

 सेवा दलों के प्रतिनिधियों ने व्यवस्था में अपना पूर्ण सहयोग देने का आश्वासन दिया। कहा कि बरात निकलने का समय फिक्स किए जाने और उस दौरान वन वे ट्रैफिक सिस्टम लागू करने पर जोर दिया गया। इसके अलावा उक्त अवसर पर बाबा के दरबार में जलाभिषेक के लिए आने वाले भक्तों को कोई परेशानी न हो, इसका विशेष ख्याल रखने की सलाह दी गई। बैठक में मंदिर प्रशासक पंडित विनय पाठक, न्यास समिति के कोषाध्यक्ष पुरेंद्र प्रसाद, न्यासी डॉ.इंदु सिन्हा, डॉ.संजय पंकज, एपी शुक्ला, डॉ.अनिल धवन, वार्ड पार्षद केपी पप्पू संजय केजरीवाल, बालाजी परिवार के अमरेंद्र कुमार अमर, नवसंचेतन के प्रमोद आजाद आदि मौजूद रहे।

जूरन छपरा स्थित महामाया स्थान से भी निकलेगी बरात

उधर, जूरन छपरा स्थित मां महामाया स्थान से भी महाशिवरात्रि के अवसर पर भव्य शिव बरात निकाले जाने की तैयारी चल रही है। आचार्य रंजीत नारायण तिवारी ने बताया कि उक्त अवसर पर मंदिर में रात के चारों पहर विशेष पूजा होगी। इसके पूर्व संध्या समय भव्य बरात निकलेगी। रात्रि में शिव विवाह का भी आयोजन होगा। इसकी तैयारी में मंदिर कमेटी के अध्यक्ष रंजन कुमार साहू, वार्ड पार्षद हरिओम कुमार, सुनील कुमार, हीरालाल चौहान, संजीव कुमार शेरू, छट्टू सहनी, प्रमोद कुमार सहनी, मुन्ना चौधरी, प्रमोद जाजोदिया, रमेश कुमार दीपू आदि सक्रिय रूप से लगे हैं।

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस