सीतामढ़ी (पुपरी), जासं। दुष्कर्म की कोशिश में एक युवती को दर‍िंदों ने ज‍िंदा जला दिया, जिससे वह गंभीर रूप से झुलस गई। एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। रविवार उसका शव पहुंचते ही मातम पसर गया। इस घटना को लेकर लोगों में गम व गुस्से का आलम है। इस घटना में मधुबनी गांव के महेश राय के पुत्र अमर कुमार समेत तीन-चार अज्ञात को युवती ने आरोपित किया था। पुलिस का कहना है कि त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी गौरी शंकर यादव को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, 18 जून को युवती सरेह में घास के लिए गई थी। जहां कुछ युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया था। विरोध करने पर दर‍िंदों ने पेट्रोल छिड़ककर उसके शरीर में आग लगा दी। वह जान बचाने के लिए दौड़कर पानी भरे नाले में कूद गई थी। चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण पहुंचे। गंभीर रूप से झुलस चुकी युवती को तुरंत अस्पताल ले जाया गया। वहां से एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। अहियापुर पुलिस को युवती ने आपबीती सुनाई। उसके आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

महिला के साथ दुष्कर्म का प्रयास, मारपीट कर किया जख्मी

तरियानी। प्रखंड क्षेत्र के एक गांव में एक महिला के साथ दो सगे भाईयों ने दुष्कर्म का प्रयास किया। विफल होने पर महिला की बेरहमी से पिटाई कर दी गई। बचाने आई महिला की सास और बेटी को भी बेरहमी से पीटा गया। घटना की बाबत पीडि़ता ने तरियानी छपरा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें लदौरा गांव निवासी विङ्क्षपद्र साह और कलङ्क्षवदर साह को आरोपित किया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी है। मामला दर्ज होने के बाद आरोपित फरार हो गए है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, पीडि़ता अपने दरवाजे पर बैठी थी। इसी बीच आरोपित उसके दरवाजे पर पहुंचकर गाली-गलौज करने लगे। विरोध करने पर महिला के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। साथ ही महिला, उसकी सांस और बेटी की पिटाई कर दी।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh