मुजफ्फरपुर, जेएनएन। सदर थाना से चंद कदमों की दूरी पर भगवानपुर में सोमवार को लूट के दौरान कपड़ा कारोबारी की हुई हत्या मामले में विशेष पुलिस टीम ने चार संदिग्धों को हिरासत में लिया है। इन सभी से पूछताछ कर सत्यापन की कार्रवाई की जा रही है।

 सिटी एसपी नीरज कुमार सिंह ने वारदात में शामिल अपराधियों की पहचान का दावा किया है, लेकिन जांच प्रभावित होने का कारण बता नाम उजागर नहीं किया है। कहा कि विशेष टीम कार्रवाई कर रही है। जल्द ही अपराधी दबोचे जाएंगे। इधर, इस मामले को लेकर वैशाली बलिगांव थाना क्षेत्र के प्यारेपुर निवासी कारोबारी के पिता रामबालक महतो के बयान पर अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। रामबालक ने पुलिस को बताया कि उन्हें परेश के पश्चिम बंगाल मालदा के पार्टनर यासीन से इस घटना की जानकारी मिली। इसके बाद वे लोग बैरिया स्थित निजी अस्पताल में पहुंचे तो परेश की मौत हो चुकी थी।

  कहा कि यह स्पष्ट नहीं हो रहा कि लूट की नीयत से या किसी अन्य कारण से हत्या की गई है। बता दें कि कारोबारी गोबरसही के प्रभात नगर से डेढ़ लाख रुपये लेकर परेश महतो मोतीझील स्थित बैंक में जमा करने जा रहे थे। इसी क्रम में भगवानपुर पेट्रोल पंप के समीप बेखौफ अपराधियों ने गोली मार उनकी हत्या कर दी और रुपये लूट लिए थे।

सूचना के बाद सदर पुलिस मौके पर पहुंची और आसपास में लगे सीसी कैमरे के फुटेज को खंगाला। इसमें कुछ संदिग्धों के तस्वीर मिली थी। इसके अलावा मृतक के मोबाइल कॉल डिटेल्स व इलाके के टावर डंपिंग सिस्टम से निकाले गए डिटेल्स के आधार पर अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस