मुजफ्फरपुर, जेएनएन। बोचहां थाना क्षेत्र के मैदापुर में गुरुवार की रात बेखौफ सशस्त्र अपराधियों ने उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड की शाखा में डाका डाला। करीब आधे दर्जन की संख्या में बैंक में घुसे लुटेरों ने हथियार के बल पर कर्मियों को कब्जे में लेकर तीन लाख 95 हजार 371 रुपये लूट लिए। अन्य छह अपराधी बैंक के बाहर खड़े थे। सभी के हाथ में हथियार थे। विरोध करने पर कैशियर समेत तीन कर्मियों के साथ मारपीट की। करीब बारह मिनट के अंदर वारदात को अंजाम देकर लुटेरे बाइक से भागने लगे। लुटेरों ने बैंक का शीशा व कंप्यूटर को क्षतिग्रस्त कर दिया। सीसीटीवी को भी क्षतिग्रस्त करने की कोशिश की। लेकिन, सफल नहीं हो सके।

फायरिंग से थर्राया मैदापुर

बैंक के बाहर लुटेरों ने कई राउंड फायरिंग की। इसके कारण पूरा इलाका थर्रा गया। गोली की आवाज सुनने के बाद ग्रामीणों की भीड़ जुटी। ग्रामीणों ने लुटेरों को पकडऩे की कोशिश की। लेकिन तब तक सभी बदमाश भाग निकले। सूचना मिलने के बाद डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय, बोचहां थानेदार मणिभूषण कुमार दल-बल के साथ मौके पर पहुंचकर जांच की। पुलिस ने मौके से एक खोखा बरामद की है।

सीसीटीवी में लुटेरों की करतूत कैद

लुटेरों की करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। पुलिस ने सीसीटीवी को खंगाला। एक अपराधी हेलमेट पहने था, और अन्य का चेहरा खुला था। जिसके आधार पर अपराधियों की गिरफ्तारी को विशेष टीम कई जगहों पर छापेमारी कर रही है।

कहां रखे हो कैश, निकालो नहीं तो मार देंगे गोली

बताया कि काम की अधिकता के कारण बैंक में काफी काम लंबित था। मैनेजर पंकज कुमार पांडेय समेत पांच कर्मी काम को निपटा रहे थे। इसके अलावा फील्ड के नौ कर्मी भी बैंक में बैठे थे। तभी बाइक सवार अपराधियों ने बैंक पर धावा बोला। छह लुटेरे अंदर घुसे और हथियार के बल पर लूटपाट शुरू कर दी। मैनेजर पंकज व कैशियर रवि को हथियार व चाकू के बल पर कब्जे में ले लिया। गोली मार देने की धमकी देते हुए कैश के बारे में पूछा। बोला कि कहां रखे हो पूरा कैश, बताओ नहीं तो गोली मार देंगे। बता दे कि गत महीने भी बोचहां के अस्पताल रोड गोई टोले में माइक्रो फाइनेंस कंपनी में लूटपाट हुई थी।

सुरक्षा की नहीं थी कोई व्यवस्था

बैंक की शाखा करीब चार साल पूर्व खोली गई। अन्य बैंकों की तरह इस शाखा में भी सभी काम होते हैं। लेकिन, सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं थी। सुरक्षा गार्ड नहीं रखा गया था। मैनेजर ने कहा कि हेड ऑफिस से गार्ड रखने का आदेश नहीं मिला था। घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्रीय मैनेजर, डिवीजनल हेड समेत अन्य अधिकारी भी पहुंचे थे।

 घटना के संबंध में एसएसपी मनोज कुमार ने कहा कि बैंक में लूट की घटना हुई है। डीएसपी के नेतृत्व में विशेष टीम लुटेरों की गिरफ्तारी को छापेमारी कर रही है। शीघ्र ही लुटेरे पकड़े जाएंगे। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस