मुजफ्फरपुर : करजा थाना क्षेत्र के रेवा रोड एनएच-722 पर निर्माणाधीन फोरलेन पुल के समीप शनिवार को कैश वैन व ट्रक में जोरदार टक्कर हो गई जिसमें चार लोग जख्मी हो गए। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कैश वैन के परखच्चे उड़ गए। इस दौरान कैश वैन पर सवार गार्ड समेत चार लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। स्थानीय लोगों के प्रयास से दो जख्मी को एसकेएमसीएच भेज दिया गया। वहीं, एक आदमी गाड़ी की स्टेयरिंग में ही फंसा था। मौके पर पहुंचे करजा थानाध्यक्ष व स्थानीय लोगों के प्रयास से फंसे व्यक्ति को बाहर निकाल पुलिस गाड़ी से इलाज के लिए भेजा जा सका। घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। इस हादसे के कारण कुछ देर तक आवागमन भी बाधित रहा। थानाध्यक्ष मणिभूषण ने बताया कि सड़क हादसे की सूचना पर पुलिस बल के साथ वे खुद मौके पर पहुंच जख्मी को इलाज के लिए भेजा। उन्होंने कैश वैन में रखा कैश सुरक्षित बताया। दोनों गाड़ियों को जब्त कर लिया गया है।

एक साथ निकली दो युवकों की अर्थी, पसरा मातम

औराई प्रखंड अंतर्गत पानापुर गाव निवासी चुन्नू साह के 32 वर्षीय पुत्र हरि साह व ढोराई साह के 30 वर्षीय पुत्र भानू साह का शनिवार की सुबह शव गाव पहुंचते ही कोहराम मच गया। दोनों की अर्थी जुलूस में सैकड़ों लोग शामिल होकर अंतिम संस्कार के गवाह बने। एक गाव से दो युवकों की अर्थी निकलने से दोनों परिवारों पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा था। दोनों युवक विवाहित थे एवं घर के एकमात्र कमाऊ व्यक्ति थे। हरि साह की रामनगर चौक पर ज्वेलरी की दुकान थी। वहीं, भानू साह उसके साथ सहयोगी के रूप में कार्य करता था। स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि दोनों व्यवसायिक काम से शुक्रवार को सीतामढ़ी जिले के बाजपट्टी गए थे। वहा से लौटने के क्रम में बाजपट्टी के सिवाईपट्टी गांव के समीप ट्रैक्टर की ठोकर से दोनों की मौके पर ही मौत हो गई थी। मौत की सूचना पर पहुंचे उनके स्वजनों ने बाजपट्टी थाना के सामने शुक्रवार की रात सीतामढ़ी पुपरी स्टेट हाईवे को पुलिस का बैरियर लगाकर जाम कर दिया था। पुलिस द्वारा शव नहीं दिखाने पर स्वजनों ने जमकर हंगामा किया था।

Edited By: Jagran