मुजफ्फरपुर, जेएनएन। जिले में बड़ी आपराधिक वारदात को अंजाम देने की साजिश में लगे चार शातिर बदमाशों को पुलिस की विशेष टीम ने सोमवार की रात सदातपुर स्थित एक लीची बगान से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार बदमाशों के पास से 315 बोर का एक देसी कट्टा व एक कारतूस, 7.65 एमएम का एक पिस्टल व दो कारतूस जब्त किया गया है।

 वरीय पुलिस अधीक्षक जयंत कांत ने मंगलवार को बताया कि गिरफ्तार किए जानेवालों में मुजफ्फरपुर जिले के मिठनपुरा थानाक्षेत्र के पक्कीसराय निवासी मो. मोजाहिद, पारू के डुमरी के स्थायी व वर्तमान में भगवानपुर के नंदपुरी मोहल्ला निवासी अमर प्रताप सिंह, सीतामढ़ी के मेहसौल चौक खिलाफतबाग निवासी तूफैल अहमद और पूर्वी चंपारण के गोविंदगंज थानाक्षेत्र के बभनौली निवासी विवेक पांडेय शामिल हैै। 

 पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि सदातपुर स्थित एक लीची बगान में पांच बदमाश बड़ी आपराधिक वारदात को अंजाम देने के लिए जमा हैं। पुलिस उपाधीक्षक पश्चिमी कृष्ण मुरारी प्रसाद के नेतृत्व में कांटी थानाध्यक्ष कुंदन कुमार, मोतीपुर थानाध्यक्ष अनिल कुमार, अहियापुर थानाध्यक्ष विकास कुमार राय, पुलिस निरीक्षक नवीन कुमार व दरोगा अभय कुमार जवानों के साथ मौके पर पहुंचे। छापेमारी की गई। इस दौरान चार बदमाश पकड़े गए। हालांकि, एक बदमाश भागने सफल रहा। 

 एसएसपी ने साफ किया कि गिरफ्तार बदमाशों में तीन हथियारों की तस्करी करते रहे हैं। इसके अतिरिक्त हत्या व लूट जैसी घटनाओं में भी इनके शामिल होने की बात सामने आई है। संबंधित थानों से इनका आपराधिक इतिहास लिया जा रहा है। तूफैल व विवेक के खिलाफ मुजफ्फरपुर के अलावा सीतामढ़ी और पूर्वी चंपारण में भी आपराधिक मामले दर्ज हैैं। 

देवरिया से आग्नेयास्त्र के साथ तीन गिरफ्तार

पुलिस की विशेष टीम ने सोमवार की देर शाम आपराधिक षडयंत्र के तहत देवरिया थानाक्षेत्र के कर्पूरी चौक पर जमा तीन बदमाशों को आग्नेयास्त्र के साथ गिरफ्तार किया है। इनकी गिरफ्तारी के साथ ही देवरिया में एलएनटी कूरियर कंपनी के एजेंट व आलू व्यवसायी से हुए लूटकांड का पर्दाफाश कर लिया गया है।  वरीय पुलिस अधीक्षक जयंत कांत ने बताया कि गिरफ्तार किए जानेवालों में देवरिया थानाक्षेत्र के लखनौर निवासी अरविंद कुमार, महम्मदपुर निवासी राजा कुमार और दुबौली निवासी राहुल कुमार शामिल हैं।

 इनके पास से तीन देसी पिस्टल, पांच कारतूस, चार सेलफोन व लूट की एक बाइक जब्त की गई है। बदमाशों की भूमिका लूट व डकैती को लेकर क्रमश: 7 नवंबर को देवरिया और 25 नवंबर को सरैया में दर्ज मामले में साफ हो गई है। कई अन्य आपराधिक मामलों में भी इनकी संलिप्तता की जानकारी पुलिस को मिली है। जिसके आधार पर टीम आगे की कार्रवाई कर रही है। छापेमारी टीम का नेतृत्व सरैया पुलिस उपाधीक्षक राजेश कुमार शर्मा कर रहे हैैं। टीम में देवरिया थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार व जमादार ददन सिंह शामिल हैं। 

Posted By: Murari Kumar

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस