मुजफ्फरपुर। विशेष पुलिस टीम ने हाइवे पर सक्रिय अंतरजिला लुटेरा गिरोह के सरगना समेत पांच शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इनके ठिकाने से भारी संख्या में हथियार, लूटे गए लैपटॉप, मोबाइल समेत अन्य सामान बरामद किए गए।

बुधवार को प्रेस वार्ता में एसएसपी विवेक कुमार ने कहा कि लुटेरों ने कांटी क्षेत्र के हाइवे पर एक सप्ताह से लगातार लूटपाट कर इलाके में आतंक मचा रखा था। इसे देखते हुए विशेष टीम का गठन किया गया। गुप्त सूचना के आधार पर टीम ने मंगलवार की रात सदातपुर लीची गाछी के समीप नाकेबंदी कर पांच शातिर बदमाशों को दबोच लिया। गिरोह में शामिल अन्य बदमाश भाग निकले। इनकी पहचान कर छापेमारी की जा रही है। एसएसपी ने बताया कि ये इलाके में लूट व डकैती की नीयत से जमे थे। इनके विरुद्ध पर्याप्त साक्ष्य मौजूद है। शीघ्र चार्जशीट दायर कर स्पीडी ट्रायल के तहत सजा दिलाने की कवायद की जाएगी।

निशानदेही पर पुलिस टीम ने इनके ठिकाने पर छापेमारी कर आ‌र्म्स समेत अन्य सामान बरामद किए। बरामद सामान में बैंककर्मी से लूटा गया लैपटॉप, बैग, चार देसी पिस्तौल, .315 बोर की 16 जिंदा गोली, पंद्रह मोबाइल सेट, चार बाइक, एक गैस कटर, ताला तोड़ने वाला औजार, दो की बोर्ड, एक लैपटॉप, एक फिंगर प्रिंट डिवाइस, एक होम थियेटर, एक मॉनीटर, पांच मोबाइल चार्जर, एक लैपटॉप चार्जर शामिल है।

गिरफ्तार बदमाशों में कांटी के सदातपुर का मो.शमीम (सरगना), अहियापुर कोल्हुआ का अजय कुमार सहनी, संजय कुमार सहनी, विजय कुमार उर्फ नन्हकी सहनी और मनीष कुमार सहनी शामिल है। इनकी दूसरे जिले के अपराधियों से भी साठगांठ की बात सामने आई है। इसके लिए अन्य जिलों की पुलिस से संपर्क किया गया है। इनके पूर्व से आपराधिक रिकार्ड रहे हैं। पूर्व की घटनाओं का रिकार्ड खंगाला जा रहा है, ताकि उन केसों में भी रिमांड किया जा सके।

टीम का नेतृत्व सिटी एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा कर रहे थे। इनके साथ नगर डीएसपी आशीष आनंद, पश्चिमी डीएसपी कृष्ण मुरारी प्रसाद, कांटी थानेदार रघुनाथ प्रसाद, अहियापुर विजय कुमार, ब्रह्मापुरा उपेंद्र कुमार सिंह व एसआइटी के जवान शामिल थे।

------------

By Jagran