मुजफ्फरपुर, जासं। नगर थाना क्षेत्र के अखाड़ाघाट में रविवार देर रात भूमि विवाद में दिव्यांग प्रशांत कुमार के घर पर पथराव किया गया। दबंगों ने मकान को जेसीबी से तोडऩे का भी प्रयास किया। इस दौरान कई राउंड फायरिंग की। इससे इलाके के लोग दहशत में आ गए। सूचना पर सिकंदरपुर ओपी की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को आते देख सभी आरोपित वहां से भाग निकले। मामले में पीडि़त ने नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है। नगर थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि एक पक्ष से कई लोगों को नामजद करते हुए आवेदन मिला है। उसकी जांच की जा रही है। 

पुलिस को दिए आवेदन में प्रशांत ने कहा कि रविवार की रात शटर तोडऩे की आवाज आई। वह और स्वजन जग गए। बाहर निकलने के लिए गेट खोलना चाहा तो आरोपितों ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया। इसके बाद स्वजनों के साथ सभी लोग छत पर चले गए। देखा कि प्रवीण पंकज, दिनेश प्रसाद गुप्ता, मनोज कुमार टिबरेवाल, गणेश कुमार मारोदिया समेत अन्य के साथ करीब 50 लोग वहां आए हुए थे। जेसीबी के साथ राइफल, पिस्टल व अन्य आम्र्स के अतिरिक्त लोहा कटर, लोहे का राड आदि के साथ आपराधिक षडयंत्र के तहत मेरी जमीन व मकान को अवैध रूप से कब्जा करने को पहुंचे थे। हत्या करने की नीयत से घर पर आकर दुकान का ताला व शटर काट रहे थे। इसका विरोध करने पर जाति सूचक गाली देकर हत्या कर देने की धमकी देने लगे।

आरोपितों ने कई राउंड फायरिंग भी की। घर पर ईंट व पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। किसी तरह हमलोग जान बचाने के लिए छिप गए। पथराव में आवेदक का भतीजा सूरज घायल हो गया। महिलाओं को अपशब्द बोला गया। आरोपितों ने घर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। पीडि़त ने बताया कि गत साल नवंबर से ही उनलोगों को प्रताडि़त किया जा रहा है। वह दिव्यांग है। इसलिए उसके मकान पर कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है। इसको लेकर वरीय अधिकारियों के यहां आवेदन दे चुके हैं, मगर कोई सुनवाई नहीं हो रही। इधर, दूसरे पक्ष के लोगों से भी संपर्क करने की कोशिश की गई, मगर उनलोगों के संपर्क नहीं हो सका। एसएसपी जयंत कांत ने कहा कि मामला गंभीर है। कानून हाथ में लेेने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। किसी के जमीन पर कब्जा नहीं करने दिया जाएगा। 

Edited By: Ajit Kumar